ENG | HINDI

सैलरी सुनकर आप भी इन पांच कामों को नहीं समझेंगे गंदा !

गंदे काम जो देता है बहुत पैसा

गंदे काम जो देता है बहुत पैसा – आज के इस दौर में हर किसी पर आधुनिक जीवशैली के अनुसार जीवन-यापन करने का जुनून सवार है.

लेकिन आधुनिक जीवनशैली से जुड़ी तमाम चीजें काफी महंगी हो गई हैं जिसे पाने के लिए व्यक्ति को ज्यादा पैसा कमाना पड़ता है.

हालांकि ज्यादा पैसे कमाने के लिए लोग दिन-रात मेहनत करने से भी नहीं कतराते हैं. लेकिन अधिकांश लोगों को यही लगता है कि किसी बड़े ऑफिस या फिर मल्टीनेशनल कंपनी में काम करनेवालों को ही अच्छी तनख्वाह मिलती है. प्लबिंग, इलेक्ट्रीशियन, कचरा उठाने जैसे कामों को लोग बेहद छोटा समझते हैं.

इस लेख के जरिए आज हम आपको ऐसे गंदे काम जो देता है बहुत पैसा – पांच काम बताने जा रहे हैं जिसे लोग गंदा भले ही समझते हैं लेकिन इन कामों में मिलनेवाली सैलरी जानकर कोई भी इस काम को करने से इंकार नहीं कर पाएगा.

गंदे काम जो देता है बहुत पैसा

1- गारबेज कलेक्टर

कचरा फैलाना तो हर कोई जानता है लेकिन कचरा उठाने के काम को हर कोई गंदा ही समझता है. अधिकांश लोगों को लगता है कि गारबेज यानी कचरा उठानेवाले लोग बेहद गरीब परिवार से ताल्लुक रखते हैं और उनकी तनख्वाह भी बेहद कम होती है. भारत में भले ही कचरा उठानेवाले की नौकरी को बेहद छोटा समझा जाता है लेकिन विदेशों में इन्हें गारबेज कलेक्टर कहा जाता है और वहां उनकी सालाना की कमाई 36 लाख रुपये तक होती है.

2- सीवर इंस्पेक्टर

जिस जगह पर पूरे शहर का गंदा पानी इकट्ठा होता है और कचरा या पॉलीबैग फंसने से जब सीवर जाम हो जाता है तब उसे साफ करने के लिए कर्मचारी लगाए जाते हैं. इस काम को करनेवाले लोगों को सीवर इंस्पेक्टर कहते हैं. भले ही भारत में इस काम के लिए कम तनख्वाह दी जाती है लेकिन विदेशों में सीवर इंस्पेक्टर की सालाना की तनख्वाह करीब 36 लाख रुपये होती है.

3- प्लंबर

अक्सर लोगों के घरों में बाथरुम, टॉयलेट या सिंक जाम हो जाता है. जब पानी की निकासी ठीक से नहीं होती है तब प्लंबर को बुलाया जाता है. प्लंबर गंदी नाली में भी उतरकर काम करता है जिसके लिए भले ही भारत में अच्छी तनख्वाह न दी जाती हो लेकिन विदेशों में इनकी तनख्वाह भारत के बड़े ऑफिस में काम करनेवालों से भी ज्यादा होती है.

4- पोर्टेबल टॉयलेट क्लीनर

बाजार या फिर किसी भीड़भाड़ वाले इलाकों में अक्सर पोर्टेबल टॉयलेट देखने को मिल जाते हैं. ऐसी जगहों पर स्थित टॉयलेट को साफ करने की जिम्मेदारी पोर्टेबल टॉयलेट क्लीनर के पास होती है. बताया जाता है कि इस काम को करनेवाले व्यक्तियों की सालाना सैलरी तकरीबन 30 लाख रुपये तक होती है.

5- खून साफ करने का काम

दुनिया भर में आए दिन आत्महत्या और हत्या जैसी घटनाएं सुनने को मिलती रहती हैं. लेकिन जिस जगह पर घटना हुई है उस जगह से खून को साफ करने या फिर डेड बॉडी के किसी अंग की सफाई का काम करने के लिए सच में हिम्मत की जरूरत होती है. लेकिन जो लोग इस काम को करते है उनकी सालाना की कमाई करीब 45 लाख रुपये तक होती है.

ये है वो गंदे काम जो देता है बहुत पैसा – बहरहाल हमारे देश में इस तरह के काम को गंदा समझा जाता है इसलिए ज्यादातर लोग इस तरह के काम करने से बचते हैं लेकिन विदेशों में इसी काम को करने के लिए लोगों को लाखों की सैलरी मिलती है.

Don't Miss! random posts ..