ENG | HINDI

धोनी हर जीत के बाद विकेट उखाड़कर साथ ले जाते है ! वजह जानोगे तो हैरान रह जाओगे !

धोनी का विकेट साथ ले जाने का कारण

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी विश्व के महानतम क्रिकेटरों में शुमार है।

महेंद्र सिंह धोनी की जितनी तारीफें की जाये उतनी कम है क्योंकि धोनी सिर्फ एक सफल कप्तान ही नहीं बल्कि एक ऐसे बल्लेबाज भी है जो मैदान में गेंदबाजों के छक्के छुड़ा देते है।

हालाँकि धोनी के बारे में ऐसी कई बातें है जो लोगों के समझ से परे है।

जैसे अक्सर धोनी हर जीत के बाद विकेट उखाड़कर अपने साथ क्यों ले जाते है? धोनी का विकेट साथ ले जाने का कारण क्या हो सकता है ?

लोगों के मन में ये सवाल जरूर उठता होगा, लेकिन आज हम इस सवाल का जबाव लेकर आये है वो भी खुद धोनी की जुबानी।

आपने महेंद्र सिंह धोनी को अक्सर फील्ड पर देखा होगा जब भी वे कोई मैच जीतते है, तो अपने साथ विकेट उखाड़कर ले जाते है।

ये है धोनी का विकेट साथ ले जाने का कारण  ! जब एक बार धोनी से इसके बारे में पूछ गया तो उनका कहना था कि “यह मेरा रिटायर्मेंट का प्लान है और अब तक मैंने काफी स्टंप्स इकट्ठा कर लिए है। लेकिन इन स्टंप्स के साथ बुरी बात ये है कौन सा स्टंप किस मैच का है ये पता नहीं है? इसलिए रिटायर्मेंट के बाद सभी मैचों के विडियो देखूंगा और मैच के स्पोंसर लोगो को बारीकी से देख कर पता लगाऊंगा कि कौन सा स्टंप किस मैच का है। जिसकी वजह क्रिकेट के बाद समय बिताने में आसानी होगी।”

तो ये है धोनी का विकेट साथ ले जाने का कारण ! हालांकि ये धोनी का रिटायर्मेंट के बाद का अपना प्लान है, लेकिन हम तो यहीं दुआ करेंगे कि माही हमेशा ऐसे ही खेलते रहे।

आपको बता दें कि फिलहाल धोनी ने वन-डे और टेस्ट मैच से सन्यास ले लिया है, लेकिन वे टी-ट्वेंटी टीम का हिस्सा अभी भी है। लेकिन आगामी दिनों में होने वाली चैंपियंस ट्राफी उनके लिए अहम साबित होने वाली है। बताया जा रहा है कि ये टूर्नामेंट धोनी का टी-ट्वेंटी टीम में भविष्य तय करेगा।

अगर धोनी इस फार्मेट से भी रिटायरमेंट लेते है तो फिर वे इंटरनेशनल क्रिकेट में देखने को नहीं मिलेंगे।

लेकिन भारतीय क्रिकेट को दिया गया उनका योगदान कभी भुलाया नहीं जा सकेगा। वे हमेशा एक सफल कप्तान, वर्ल्डक्लास बल्लेबाज, लाजवाब विकेटकीपर के साथ-साथ एक बेहतरीन इंसान के रूप में हमेशा याद किये जायेंगे।

Don't Miss! random posts ..