ENG | HINDI

जब धोनी को मैच खेलते हुए देख उनकी बेटी उन्हें गले लगाने की करने लगी ज़िद्द हंसने लगा पूरा स्टेडियम

महेंद्र सिंह धोनी की बेटी – महेंद्र सिंह धोनी जितने पॉपुलर हैं, उनकी पत्नी और बेटी भी उतनी ही लोकप्रीय हैं.

जब महेंद्र की शादी हुई थी तब उनकी पत्नी स्टेडियम में अपने पति को चीयर करते हुए दिखती थीं. अब ये काम महेंद्र सिंह धोनी की बेटी करती नज़र आती है. महेंद्र सिंह अपनी बेटी के साथ फोटो और वीडियो डालते रहते हैं.

साक्षी भी अपनी बेटी की रोचक तस्वीरें और वीडियो लोगों के लिए पोस्ट करती रहती हैं. IPL शुरू हो चूका है. माँ बेटी मैदान में मैच देखने पहुंची. तभी अचानक से धोनी के बेटी ने पास में बैठे लोगों से ये कहना शुरू किया कि उनके पापा को बुलाया जाए. वो उन्हें गले लगाना चाहती हैं.

महेंद्र सिंह की बेटी की ये बात सुनते ही बाकी लोग खूब हंसने लगे. महेंद्र सिंह धोनी की बेटी बार बार पापा पापा कहकर महेंद्र को आवाज़ देती और पास में बैठे लोगों से कहती की पापा को बुलाओ मुझे उन्हें हग करना है.

महेंद्र सिंह धोनी की बेटी का विडियो आप भी देखें –

When Ziva wanted to give a hug to papa during the match

A post shared by M S Dhoni (@mahi7781) on

मैच काटे का था और जब ये वीडियो धोनी के अकाउंट से पोस्ट किया गया तो मैच के दौरान ही वायरल होने लगा. कई विकेट गंवाने के बाद अंतिम ओवरों में जीत के लिए संघर्ष कर रही चेन्नई की नैया पार लगाने की धोनी ने पूरी कोशिश की. मैच की आखिरी बॉल पर धोनी का जड़ा छक्का भी किसी काम नहीं आया और चेन्नई चार रन से मैच हार गई. आईपीएल मैच के दौरान धोनी से जुड़ा एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है। यह वीडिया धोनी की बेटी जीवा का है. लगता है इसीलिए बार बार जीवा अपने पिता को गले लगाना चाहती थी.

चेन्नई सुपरकिंग्स और किंग्स इलवेन पंजाब का यह मैच अंतिम गेंद तक चला.

अंतिम ओवर में पिच पर धोनी और ब्रावो मौजूद थे. अश्विन ने गेंद मोहित शर्मा के हाथों में थमाई. ब्रावो ने पहली गेंद पर एक रन लिया जबकि दूसरी गेंद को धोनी छू भी नहीं पाए. तीसरी गेंद मोहित ने वाइड फेंक दी. यानी अब चेन्नई को चार गेंदों पर 15 रन चाहिए थे.

तीसरी लीगल गेंद पर धोनी ने एक शानदार चौका जड़ दिया और अब 3 गेंदों पर 11 रन चाहिए थे. मोहित ने चौथी गेंद पर शानदार डॉट गेंद की, कोई रन नहीं आया.

अब दो गेंदों पर 11 रन चाहिए थे. पांचवीं गेंद पर धोनी ने शॉट तो जड़ा लेकिन वो दौड़े नहीं और कोई रन नहीं लिया यानी पंजाब तकरीबन जीत चुका था क्योंकि अंतिम गेंद पर चेन्नई को 11 रन चाहिए थे. अंतिम गेंद पर माही ने छक्का जड़ा लेकिन वो अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके. भले ही माही अपनी टीम को जिता नहीं सके लेकिन उनकी बेटी ने सबका दिल जीत लिया.

खैर जब मैच हारने के बाद महेंद्र सिंह धोनी की बेटी का ये वीडियो देखे होंगे तो उनकी तकलीफ भी दूर हो गई होगी. असल में चाहे जितना दुःख क्यों न हो, एक बार जब बच्चे हंसकर पापा कह देते हैं, तो सारा दुःख दूर हो जाता है. धोनी के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ होगा. मैच  में हार जीत तो लगी रहती है.

Don't Miss! random posts ..