ENG | HINDI

दिल्ली एमसीडी चुनाव की ये महिला प्रत्याशी बुर्कें में कर रही है चुनाव प्रचार !

कांग्रेस उम्मीदवार शमशीदा

उत्तर प्रदेश सहित पांच राज्यों में चुनाव के बाद अब सब की नजर देश की राजधानी दिल्ली में होने वाले एमसीडी चुनाव पर है।

जहां इसमें कांग्रेस ने अपने पुराने पार्षदों पर भरोसा जताया है वहीं भाजपा ने एक भी पुराना चेहरे को मौका नहीं दिया। भाजपा ने इस बार किसी भी पुराने पार्षद को टिकट नहीं दिया है।

दिल्ली की चुनावी गर्मी में सभी उम्मीदवार ने अपनी जान फूंक दिया है। इस बार का चुनाव काफी जबरदस्त होने वाला है। इसलिए सभी हर संभव प्रयास कर रहे हैं।

वार्ड संख्या  64 ई श्रीराम कालोनी की कांग्रेस उम्मीदवार शमशीदा बुर्कें में चुनाव प्रचार कर रही है। वो जब चलती है तो उनके साथ महिलाओं का एक बड़ा काफीला चलता है।

शमशीदा वर्तमान निगम पार्षद हाजी आस मोहम्मद की पत्नी है।

महिला सीट होने के कारण पार्षद आस मोहम्मद को टिकट न देकर कांग्रेस ने उनकी पत्नी को दिया है। लोगों का रुझान देखकर तो यही लग रहा है कि जहां एक ओर काग्रेंस निगम की कुर्सी की दौर से बाहर हो रही हैं वहीं शमशीदा के जीतने के रुझान दिख रहे है।

हाजी आस मोहम्मद ने पिछले पांच वर्षों में जो कार्य किया है उसे लेकर लोग उत्साहित है। यही वजह है कि लोगों से इस बार भी उनसे उम्मीदे हैं।

कांग्रेस उम्मीदवार शमशीदा सुबह सवेरे ही नकाब पहन कर घर से निकल जाती है और घर घर जाकर लोगों से मिलती। उनका मानना है कि अभी काफी समय है और इधर – उधर जनसभा करने से अच्छा है कि लोगों के पास जाकर उनसे बात की जाए। लोगों की समस्याओं को जाना जाए।

कांग्रेस उम्मीदवार शमशीदा कहती है कि आज कल नेता हवाबाजी करते हैं। रोड शो, मंच जैसे माध्यमों की जगह लोगों से मिलकर उनकी समस्या जानना चाहिए तभी लोग आपको पसंद करेंगे।

आज देश को जन नेता की जरुरत है, जो राजनीति से गायब होते जा रहे हैं। नेताओं को कोशिश करनी चाहिए कि ज्यादा से ज्यादा लोगों से मिलकर उनकी समस्याओं पर उनसे बात की जाए। गांवों में पंचायत हुआ करती थी वहां लोग इकट्ठा होकर बात किया करते थे लेकिन अब उन्हें लोगों से मिलने तक की फुर्सत नहीं होती।

ऐसे में शमशीदा की नई पहल कितना कारगर होगी यह तो 25 तारीख को ही पता चलेगा।

Don't Miss! random posts ..