ENG | HINDI

गोविंदा के इस फैसले ने उनके फिल्मी करियर को तबाह कर दिया !

गोविंदा का फैसला

बॉलीवुड में एक से बढ़कर एक फिल्में देनेवाले अभिनेता गोविंदा इन दिनों अपनी आगामी फिल्म ‘आ गया हीरो’ को लेकर सुर्खियों में हैं.

एक लंबे समय तक पर्दे से गायब रहने के बाद गोविंदा दूसरी बार पर्दे पर वापसी की तैयारी में हैं. इससे पहले गोविंदा ने सलमान खान के साथ फिल्म ‘पार्टनर’ से पर्दे पर वापसी की थी.

यहां गौर करनेवाली बात यह है कि बॉलीवुड में गोविंदा के फिल्मी करियर की गाड़ी पटरी पर अच्छी तरह से चल रही थी लेकिन अचानक गोविंदा का फैसला जिसने उनके अच्छे खासे फिल्मी करियर को तबाह कर दिया.

गोविंदा का फैसला –

गोविंदा का फैसला राजनीति में जाने का 

दरअसल अपने अच्छे खासे फिल्मी करियर के दौरान गोविंदा ने राजनीति में जाने का फैसला किया जिसके बाद उनके राजनीतिक करियर में काफी उतार चढ़ाव आए.

गोविंदा की मानें तो राजनीति का अनुभव उनके लिए अच्छा नहीं रहा है. शायद इसलिए आज भी गोविंदा अपने उस फैसले को कोसते हैं. जब उन्होंने राजनीति में आने का फैसला किया.

गोविंदा के मुताबिक राजनीति ने उनके अच्छे खासे फिल्मी करियर को तबाह कर दिया. तब जाकर उन्हें महसूस हुआ कि उन्हें राजनीति छोड़कर फिल्मों में ही काम करना चाहिए.

एक बार फिर पर्दे पर वापसी को तैयार हैं गोविंदा

हालांकि राजनीति का रास्ता चुनने के बाद गोविंदा को ना तो राजनीति में कोई खास पहचान मिल पाई और ना ही फिल्मों में कोई खास कामयाबी.

लेकिन फिल्म ‘इल्जाम’ से हिंदी सिनेमा में अपने करियर का आगाज करनेवाले गोविंदा एक बार फिर फिल्म ‘आ गया हीरो’ से पर्दे पर वापसी करने जा रहे हैं.

वहीं फिल्मी पंडितों में इस फिल्म को लेकर ज्यादा उत्साह नहीं देखा जा रहा है. शायद यही वजह है कि गोविंदा भी इन दिनों अपनी वापसी को लेकर थोड़ा सा सहमे हुए हैं.

गोविंदा भले ही पर्दे पर एक बार फिर वापसी करने की तैयारी कर रहे हैं लेकिन वो इन दिनों अपने सबसे अच्छे दोस्त डेविड धवन पर भी ब्लेम गेम करने से पीछे नहीं हट रहे हैं.

एक दौर ऐसा था जब गोविंदा ने बॉक्स ऑफिस पर कई सुपरहिट फिल्मों की झड़ी लगा दी थी. तब लोग उनकी हर फिल्म का बेसब्री से इंतजार करते थे लेकिन आज आलम कुछ और है क्योंकि उनकी इस नई फिल्म को लेकर लोगों में उत्साह ना के बराबर दिखाई दे रहा है.

गौरतलब है कि दूसरी बार पर्दे पर वापसी के इस फैसले में गोविंदा की पत्नी ने उनकी काफी हौसला अफज़ाई की है.

इतना ही नहीं वो अपनी इस फिल्म के प्रमोशन के लिए भी जी जान से जुटे हुए हैं लेकिन ये देखना दिलचस्प होगा कि इस बार पर्दे पर गोविंदा का जादू चल पाता है या नहीं.

ये था गोविंदा का फैसला जिसने उसका फ़िल्मी करियर तबाह कर दिया.

Don't Miss! random posts ..