ENG | HINDI

सावन से पहले चिकन खाने के लिए मांग डाली एक हफ्ते की छुट्टी

सावन से पहले चिकन खाने के लिए छुट्टी

सावन से पहले चिकन खाने के लिए छुट्टी – हिंदू धर्म में सावन के महीने में मांसाहार का सेवन करना वर्जित है।

बस इसी बात को ध्‍यान में रखते हुए एक रेलवे कर्मचारी ने एक हफ्ते की छुट्टी मांगी है। इस शख्‍स का अनोखा आवेदन सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

सावन के पूरे महीने में नॉनवेज से दूर रहना पड़ेगा इसलिए एक रेलवे कर्मचारी ने कए सप्‍ताह की छुट्टी मांगी है ताकि वो आराम से नॉनवेज खाने का मज़ा ले सके। इस शख्‍स ने अपनी लीव एप्‍लीकेशन में छुट्टी लेने का कारण सावन के महीने में नॉनवेज न खाना बताया है। इसने लिखा है कि सावन के महीने में नॉनवेज नहीं खा सकता इसलिए अभी एक सप्‍ताह की छुट्टी दे दीजिए ताकि मैं आराम से सावन से पहले नॉनवेज खा सकूं।

सावन से पहले चिकन खाने के लिए छुट्टी – यह मामला दीपका रेलवे साइडिंग का है।

यहां ग्रेड टीए-2 के पद पर कार्यरत रेलकर्मी पंकज राज गोंड ने दीपका साइडिंग के स्‍टेशन मास्‍टर श्‍याम बारगे से 15 जून को मुलाकात कर उनसे कुछ दिनों की छुट्टी मांगी। सोशल मीडिया पर पंकज का एक आवेदन वायरल हो गया। पत्र में लिखा है कि ‘मैं पंकज गोंड  दीपका रेलवे साइडिंग में कार्यरत हूं। महोदय से हाथ जोड़कर विनती है कि अगले महीने से सावन शुरु हो रहा है इसलिए घर में चिकन नहीं बनेगा। चिकन नहीं खाया तो शरीर में कमज़ोरी आ जाएगी और मैं दीपका साइडिंग में 24 घंटे काम नहीं कर पाऊंगा। इसलिए महोदय से निवेदन है कि मुझे सावन से पहले चिकन खाने के लिए 20 जून से 27 जून तक छुट्टी दे दीजिए ताकि मैं आराम से चिकन खा सकूं।’

सावन से पहले चिकन खाने के लिए छुट्टी – सोशल मीडिया पर पंकज का यह आवेदन खूब वायरल हो रहा है।

सावन से पहले चिकन खाने के लिए छुट्टी के इस आवेदन पर स्‍टेशन मास्‍टर दीपका का सील और हस्‍ताक्षर है। इसलिए माना जा रहा है कि स्‍टेशन मास्‍टर ने चिकन खाने के लिए आए इस आवेदन को मंजूरी दे दी है।

माना जा रहा है कि गलत ढंग से आवेदन पर सील का इस्‍तेमाल अनुशासनहीनता है और अब रेलकर्मी पंज राज पर कार्रवाई करने के बारे में सोच रहे हैं।

Don't Miss! random posts ..