ENG | HINDI

क्रिकेट इतिहास में हमेशा याद रखा जाएगा ये मुकाबला, इससे पहले कभी नहीं हुआ था ऐसा

डे-नाइट टेस्ट मैच

डे-नाइट टेस्ट मैच – आने वाले साल में भारत और दक्षिण अफ्रीका टेस्ट सीरीज़ खेलते नज़र आएंगे लेकिन उस से पहले दक्षिण अफ्रीका को जिम्बॉब्वे से मुकाबला करना होगा.

जिम्बॉब्वे और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले जा रहे चार दिवसीय बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच का आगाज़ हो चुका है.

अफसोस की बात है कि मंगलवार को दक्षिण अफ्रीका के नियमित कप्तान फाफ डुप्लेसिस और अनुभवी गेंदबाज डेल स्टेन के मैच से बाहर होने के बाद अब टीम की कमान एबी डिविलियर्स ने संभाल ली है. इस टेस्ट मैच के शुरू होते ही क्रिकेट के इतिहास में एक नया अध्याय भी जुड़ गया. इस मैच में कुछ ऐसा होने वाला है जो आज से पहले क्रिकेट इतिहास में कभी नहीं हुआ.

डे-नाइट टेस्ट मैच

क्रिकेट इतिहास का पहला डे-नाइट टेस्ट मैच

दरअसल, इस मैच की खास बात ये है कि ये पहले खेले गए चार दिवसीय टेस्ट मैचों से एकदम अलग है क्योंकि ये चार दिन का टेस्ट मैच होने के साथ-साथ डे-नाइट टेस्ट भी है. ऐसा क्रिकेट इतिहास में पहली बार होने जा रहा है जब दो टीमों के बीच चार दिवसीय डे-नाइट टेस्ट मैच खेला जाएगा.

1973 में हुआ था ऐसा

ऐसा 44 साल बाद होने जा रहा है जब दो टीमों के बीच चार दिवसीय मैच खेले जाएंगे. इस से पहले 1973 में न्यूजीलैंड और पाकिस्तान के बीच ऑकलैंड में चार दिवसीय मैच खेला गया था. वह सीरीज़ ही चार दिवसीय मैच की थी. जाहिर तौर पर आइसीसी का यह नया प्रयास है.

आजतक सिर्फ 7 ही डे-नाइट टेस्ट मैच खेले गए हैं. लेकिन ये सभी पांच दिवसीय मुकाबले रहे थे. आइसीसी की तरफ से पोर्ट एलिजाबेथ में दक्षिण अफ्रीका और जिम्बॉब्वे द्वारा खेले जाने वाला ये आठंवा डे-नाइट मैच है.

डे-नाइट टेस्ट मैच

डूप्लेसिस करेंगे भारत के खिलाफ़ वापसी

दक्षिण अफ्रीका टीम के मैनेजर मुहम्मद मूसाजी का कहना है  कि “फाफ की कमर और कंधे की चोट में सुधार हो रहा है और उनका पिछले सप्ताह तक इस मैच में खेलना लगभग तय ही था लेकिन वह अभी भी पूरी तरह से ठीक नहीं हो पाए हैं. हमे उम्मीद है कि पांच जनवरी से भारत के खिलाफ़ शुरू होने वाले पहले टेस्ट मैच से पहले ठीक हो जाएंगे और टीम की अगुआई करेंगे. फाफ के साथ डेल स्टेन वायरल संक्रमण के चलते इस मैच में उपलब्ध नहीं रहेंगे.”

इसी वजह से दो साल से जिस खिलाडी ने टी-20 सीरीज़ नहीं खेली थी उसे अब टीम की कप्तानी सौंप दी गई है. एबी डिविलियर्स इस मैच में टीम की अगुआई करेंगे.

डे-नाइट टेस्ट मैच

दक्षिण अफ्रीका और जिम्‍बॉब्वे का पिछला मैच कुछ ऐसा रहा

दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया.

मैच के अंत में दक्षिण अफ्रीका ने जिम्बॉब्वे के खिलाफ़ नौ विकेट पर 309 रन बनाकर पारी अपने नाम कर ली.

दक्षिण अफ्रीका की तरफ से बल्लेबाज़ एडन माक्रम ने 125 रन बनाकर सबसे बेहतरीन प्रदर्शन किया.

वहीं दूसरी ओर कप्तान एबी डिविलियर्स ने 53 रन बनाए तो सलामी बल्लेबाज़ डीन एल्गर ने 31 रन.

दक्षिण अफ्रीका में अनुभवी बल्लेबाज़ हाशिम अमला का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा. हाशिम केवल 5 रन बना कर कैच आउट हो गए.

जिंबॉब्वे ने भी दक्षिण अफ्रीका को करारा जवाब देते हुए उनके तेज गेंदबाज काइल जार्विस और क्रिस मोफु ने 3 विकेट हासिल किए.

तो कुछ इस तरह से खास रहने वाला है इस बार का भारत और दक्षिण अफ्रीका का मैच.

 

Don't Miss! random posts ..