ENG | HINDI

क्रैकिंग न्यूज़: सेक्युलर साबित करने के लिए होगा एंट्रेंस टेस्ट

feature52

मैं बसकर स्वामी एक बार फिर आप सबका स्वागत करता हूँ ND तिवारी टीवी पर.

आज की क्रैकिंग न्यूज़ सेक्युलर साबित करने के लिए होगा एंट्रेंस टेस्ट

 अबू आज़मी का फिर से घुमा दिमाग

अब खबरें विस्तार से

ईद नज़दीक आ रही है और इसी के साथ सब के सब नेता भी अपनी अपनी ईदी बटोरने में लग गए है.

कोई इफ्तार पार्टी देकर तो कोई इफ्तार पार्टी में जाकर.

इस बार इफ्तार पार्टी के सीजन में सबने सोचा था कि मुकाबला कांग्रेस और भाजपा में होगा. लेकिन इस बार तो कुछ एक दम ही चमत्कारिक हो गया. राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने पहली बार इफ्तार पार्टी रख कर सबका बैंड बजा दिया.

पहले तो सोनिया गाँधी इस दांव से सकते में आ गयी पर उन्होंने भी साबित कर दिया कि उन्होंने भी कच्ची  गोलियां नहीं खेली है.

सोनिया की पहली  इफ्तार पार्टी में सोनिया ने जंग, केजरीवाल और शीला आंटी की तिकड़ी को एक साथ ना सिर्फ बुलाया बल्कि उनके गिले शिकवे भी दूर कर दिए और तो और नितीश भी जमकर मालपुए खाते हुए देखे गए.

2

इस तरह RSS  और सोनिया ने पूरा जोर लगा दिया सेक्युलर साबित करने के लिए. दोनों ने अभी चैन की सांस ली ही थी सेक्युलर टेस्ट पास करने की ख़ुशी में कि भारतीय सेक्युलर टेस्ट के पदाधिकारियों ने टेस्ट में पास होने के नियम बदल दिए.

इस परीक्षा समिति के अध्यक्ष रोबिन सिंह सिद्दीकी ने घोषणा की, कि अब से सेकुलर होने का प्रमाण पत्र उसे ही दिया जायेगा जो इफ्तार पार्टी देने के साथ साथ उस पार्टी में भी गोल टोपी लगाकर जायेगा और चाहे आये ना आये पर सब इस्लामिक नियम कानून जानने का नाटक करेगा.

1

इस नए कानून के बाद सबसे पहले प्रमाणपत्र हासिल करने वाले लोगों में सबसे पहले थे ईमानदारी शिरोमणी युगपुरुष श्री श्री “चंदा मामा ” उर्फ़ अरविन्द केजरीवाल और राहुल गाँधी की  और उनके ठीक बाद जिन्हें ये प्रमाणपत्र मिला वो थे पद्म श्री लालू प्रसाद यादव अरे माफ़ कीजिये ये तो एक फिल्म का नाम है, माफ़ कीजिये सर्टिफिकेट मिला था लालू प्रसाद यादव को.

इसके अलावा नए नियमों में ये भी शामिल किया गया है कि अगर आप ईद के मौसम में पोलिटिकल इफ्तार में जाते है तो अगर वहां मौजूद मुस्लिम नेताओं और सदस्यों ने अगर टोपी नहीं पहनी और गैर मुस्लिम ने अगर टोपी पहनी हो तो उसे विशेष योग्यता से पास किया जायेगा.

इस खबर को सुनने के बाद जहाँ सपा बसपा आप कांग्रेस में जहाँ ख़ुशी की लहर है वहीँ भाजपा सदमें में है.

अगली बार हम लोग भी टोपी पहन कर न्यूज़ पढेंगे जिससे हमारे न्यूज़ चैनल पर भी सेक्युलर होने का हरा वेरीफाईड मार्क आ जाये.

अब चलते है अगले खबर की तरफ हमारी सबसे चहेती रंजना व्हाट्स अप के पास.

अगली खबर ये है कि दिग्विजय सिंह और सलमान खुर्शीद ने जिस तरह बहुत ही मूर्खतापूर्ण  आई मीन टू से बुद्धिजीवियों वाले बयान देकर रिहान और राहुल के नए कोच बनने का दावा पेश किया वहीँ खबर मिली है की ईद  के मौके पर भुलाये जा चुके अबू आज़मी ने भी कोचिंग के लिए अपना दावा पेश कर दिया है.

उनका नया बयान सब पर भारी पड़ गया है, अबू साहब ने कहा कि मुंबई धमाकों के अभियुक्त याकूब मेमन को फांसी इसलिए दि जा रही है क्योंकि मोदी सरकार सांप्रदायिक है और मुस्लिम विरोधी है.

अबू बाबा ये फैसला कोर्ट का है वो भी 2007 में टाडा कोर्ट का और 2013 में सुप्रीम कोर्ट का और माफ़ी की अपील ख़ारिज की है प्रणव दा ने.

3

लगता है लोकसभा और विधानसभा चुना में हार के बाद उनका मानसिक संतुलन जो पहले से बिगड़ा था अब और बिगड़ गया है.

डॉक्टरों ने उनको आज़म खान की भैस का दूध पीने को कहा है.

जब हमने सपा सुप्रीमों मुलायम सिंह से इस बारे में टिपण्णी चाही तो उन्होंने अपनी विशेष भाषा में कुछ कहा जो हमेशा की तरह ना हमें समझ आया.

हमारी स्पेशल टीम उनकी कही बात को समझने की कोशिश कर रही है, जरुरत पड़ने पर विदेश या दूसरी दुनिया से भी विशेषज्ञों को बुलाया जा सकता है उनकी भाषा समझने के लिए.

इसी के साथ समाचार समाप्त

मेक अप दादा बोला था न हरी लिपस्टिक लगाओ ईद का मौसम है सेक्युलर दिखना है मुझे.

Don't Miss! random posts ..