ENG | HINDI

क्रैकिंग न्यूज़ : पप्पू यादव और आज़म खान ने की बाहुबली फिल्म पर बैन लगाने की मांग

feature

मैं बसकर स्वामी एक बार फिर आप सबका स्वागत करता हूँ ND तिवारी टीवी पर.

आज की क्रैकिंग न्यूज़ : पप्पू यादव और आज़म खान ने की बाहुबली फिल्म पर बैन लगाने की मांग

ओल्ड मोंक बंद होने की खबर सुनकर मची भारत में अफरा तफरी

अब समाचार विस्तार से…

बाहुबली भारत की सबसे बड़ी फिल्म बन गयी है पर अब ये फिल्म विवादों में घिर गयी है. बिहार और उत्तर प्रदेश में इस फिल्म का विरोध होने लगा है और बाहुबली पर बैन लगाने की मांग की गयी है.

जब हमने विरोध का कारण पुछा तो छुटभैय्ये नेताओं ने कहा कि बाहुबली उत्तेर प्रदेश और बिहार की राजनीती का अपमान करती है और नेताओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाती है.

7

विरोध करने वालों का नेतृत्व पप्पू यादव और आज़म खान कर रहे है.

उन दोनों का कहना है की बाहुबली में बाहुबलियों का अपमान किया गया है. पप्पू यादव का कहना है कि फिल्म का नाम बाहुबली रखा पर इस फिल्म में गुंडई, हत्या, अपहरण और बलात्कार का कोई जिक्र नहीं है.

आज़म खान ने भी इसका समर्थन करते हुए कहा कि इन सब बातों के अलावा इस फिल्म में ना कहीं बूथ कैप्चरिंग दिखाई न शराब की ठेकेदारी.

3

इसकी वजह से समाज़ में बाहुबलियों का नाम ख़राब होगा और युवा जो बाहुबली बनने का सपना देखते है वो फिल्म देखकर अच्छे इंसान बन जायेंगे. और बाहुबलियों की परिभाषा ही बदल जाएगी.

इसलिए बिहार और उत्तेर प्रदेश सहित पूरे भारत के बाहुबलियों का एक प्रतिनिधि मंडल अमित शाह के पास जायेगा और इस फिल्म पर बैन लगाने को कहेगा.

2

देखते है क्या  असली बाहुबली बचा पाएंगे अपना नाम ख़राब होने से और रोक पाएंगे बाहुबली फिल्म द्वारा फैलाया जाने वाला झूठ ?

अब चलते है अगली खबर की तरफ जिसके बारे में सुनकर सबका दिल टूटने वाला है .

जी नहीं सनी लिओनी भारत छोड़ कर नहीं जा रही ये खबर तो उस से भी ज्यादा दिल तोड़ने वाली है. दिल के मरीज़ और कमज़ोर दिल वाले इस खबर को ना पढ़े.

मैं बहुत ही क्रांतिकारी बाजपयी बताने जा रहा हूँ इस सदी की सबसे ह्रदय विदारक खबर.

आपकी मेरी और हर भारतीय की चहेती, ख़ुशी और गम की साथी ओल्ड मोंक रम बहुत ही जल्द बंद होने जा रही है. देखिये अब आंसू रोकना तो मुश्किल है ऐसी खबर सुनकर फिर भी थोड़ा नियंत्रण कीजिये.

1
खबर ये है कि दशकों तक सबके दिलों पर राज करने वाली ओल्ड मोंक को उसके ही चाहने वाले यानि आपने और मैंने रुसवा कर दिया है. जो ओल्ड मोंक साल में 80 लाख बिकती थी औ अब 20 लाख भी नहीं रही है.

इसका कारण और कुछ नहीं हम भारतियों की दिखावा करने की बुरी आदत है. चाहे कितना अच्छा स्वाद हो नशा हो पर ओल्ड मोंक को सस्ती शराब मानने लगे है और उसपर प्राथमिकता देने लगे है विदेशी महंगी पर घटिया शराब को.

किंगफ़िशर बियर का एक बड़ा हिस्सा पहले ही विदेश हेनिकेन बियर ने खरीद लिया है, अब क्या आप और मैं ओल्ड मोंक को भी बंद होते देखेंगे ?

6

नहीं ये वक्त है सारे द्वेष भूल जाने का और सबके साथ मिलकर हम सबकी पसंदीदा रम ओल्ड मोंक को बचाने का.

तो आइये हमारे न्यूज़ चैनल के साथ और शेयर कीजिये अपनी सेल्फी ओल्ड मोंक के साथ.

इसी के साथ समाचार समाप्त.

गम गलत करने के लिए मैं भी जाता हूँ ओल्ड मोंक के दो पैग मारने और आप भी सजा लीजिये टेबल.

Don't Miss! random posts ..