ENG | HINDI

चीन के राष्ट्रपति ने टाॅयलेट में की पीएम मोदी की नकल

चीन के राष्ट्रपति ने की मोदी की नक़ल

चीन के राष्ट्रपति ने की मोदी की नक़ल – पीएम नरेंद्र मोदी आजकल हर जगह छाए हुए है कोई उनके डायलॉग काॅपी कर रहा सै तो कोई उनके आडियाज ।

अभी कई वक्त पहले कर्नाटक के सीएम का एक रैली के दौरान पीएम मोदी के डायलाॅगस की नकल करते नजर आए थे । अब चीन के राष्ट्रपति सीन जिनपिंग भी मोदी जी की नकल करके फेमस होना चाहते है । लेकिन शी जिनपिंग मोदी जी के डायलाॅग की नकल नही बल्कि उनके आइडियाज की नकल कर रहे है । इसलिए तो राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने भी चीन में मोदी जी के शौचालय वाले अभियान को शुरु करने का मन बना लिया है । चीन के राष्ट्रपति ने की मोदी की नक़ल –

राष्ट्रपति शी जिनपिंग की सरकार ने एक कार्य योजना शुरू की है जिसके तहत अगले साल यानि 2018 से 2020 तक चीन में 64000 नए टाॅयलेट बनाए जाएंगे । ये टाॅयलेट चीन के पर्यटन विभाग के बनवाए जा रहे है। इसके पहले पढाव पिछले साल से शुरु कर दिया था जिसके अंतर्गत अब तक 68  हजार नए टाॅयलेट बनाए जा चुके है ।

चीन के राष्ट्रपति ने की मोदी की नक़ल

इसके पीछे चीन के पर्यटन विभाग की एक गहरी है सोच है।

पर्यटन विभाग का मानना  है पर्यटन की बढावा देने के लिए  शौचालय  क्रांति का आना जरुरी है । आपको या बाते सुनकर पीएम मोदी की याद आ रही होगी । क्योंकि पीएम मोदी भी  भारत में स्वच्छता अभियान के तहत हर घर में एक शौचालय बढाने का अभियान चला रहे है जिसके तहत भारत के गांवों में लोगो को शौचालय बनाने के लिए फंड भी दिया गया। इस अभियान की वजह से देश में काफी सुधार आए है और लोगो की जिंदगी पहले से बेहतर बने लगी है और यही नही नए शौचालय  बने के कारण विदेशों से आने वाले पर्यटकों की सोच भी भारत को लेकर बदल रही है । और वो यहाँ के बारे में अलग व्यूज है ।

और स्वच्छता अभियान की कामयाबी का आलम ये रहा कि पीएम मोदी की इस अभियान को लेकय विश्व भर में चर्चा हुई और लोगों ना भी इसे काफी सराहा ।

और जहाँ तक सवाल है चीन के राष्ट्रपति शी जिनंपिग का । हम सभी जानते है कि वो उन पड़ोसियों में से है जो बाहर से दोस्ती दिखाते है लेकिन दिल ही दिल में पङोसी की हर चीज से जलन रखते है । और यही वजह है कि शी जिनपिंग ने अपना दिमाग लगाने की बजाय पीएम मीदी के आइडिया की नकल करने की सोची । लेकिन आइडिया की काॅपी की तो की । कोई नही अच्छी चीजों को अपनाना ही चाहिए लेकिन आइडिया अपनाने की एक अच्छी वजह तो दे देनी चाहिए । वरना अब लोगों के मन में तो यही सवाल आएगा कि एक ताकतवर देश होने के बावजूद भी अब चीन को ख्याल आया कि उन्हे भी नए शौचालयों  की जरुरत है ।

आपको बता दें पर्यटन के मामले में चीन की हालत भारत से कही ज्यादा खराब है यहाँ आने वाले सैलानी हमेशा गंदे शौचालयों की शिकायत करते रहते है । साथ इन शौचालयों की देखभाल करने वाले कर्मचारी भी काफी कम है ।

शी जिनपिंग हाल ही में खुद प्रेस कॉन्फ्रेंस करके इस बात की जानकारी दी और कहा कि चीन में पर्यटन उद्योग को बढावा देने के लिए शहरो और गांवो में नए शौचालय का निर्माण जरुरी है । इसे लोगो की जिंदगी में सुधार आएगा । इसे ये बात तो साबित हो गया कि शी जिनपिंग पाकिस्तान से कितनी भी दोस्ती निभाए । लेकिन आगे बढने के लिए काॅपी तो वो भारत की ही करता है।

इस तरह चीन के राष्ट्रपति ने की मोदी की नक़ल –

Don't Miss! random posts ..