ENG | HINDI

ये तीन नवरात्री मंत्र के जाप से मिलती है माता रानी की कृपा !

नवरात्री के मन्त्र

ये तीन नवरात्री के मंत्र के जाप से मिलती है माता रानी की कृपा !

नवरात्रि के नौ दिन बहुत पावन और दिव्य होता है.

इन नव दिनों में माँ दुर्गा के नौ रूप धरती पर आते है, इसलिए इन नव दिन माता दुर्गा से जुड़े सारे मंत्र सिद्ध होते है. इन मंत्रों में कुछ मंत्र ऐसे है, जिससे माता दुर्गा सारी बाधाओं को दूर करती है और इनके जाप से माता की कृपा हमेशा बनी रहती है.

आइये जानते है क्या है यह नवरात्री के मन्त्र

यह नवरात्री के मन्त्र दुर्गा सप्तशती के शक्तिशाली और दिव्य मंत्रों में से है. इन मंत्रो से माता दुर्गा की कृपा हमेशा बनी रहती है. इन मंत्रो से सारी बाधाएं खत्म हो जाती है.

नवरात्री के मन्त्र – 

1 – पहला मंत्र

जयति मंगला कालिके, भद्र काली कपालनी

दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा नमस्तुते

इस मन्त्र का जाप 108 बार करे. यह दुर्गा की सबसे शक्तिशाली मंत्रो में से एक है.

2 – दूसरा मंत्र

सर्वमंगल मंगलये शिवे सर्वार्थ साधिके

शरण्ये त्र्यम्बिके गौरी नारायणी नमोस्तुते

इस मंत्र का जाप दुर्गा पूजा करते हुए करे. यह दुर्गा कृपा पाने का सबसे श्रेष्ठ मंत्र है.

3 – तीसरा मंत्र

महारात्रि महाविध्ये नारायणी नमस्तुते

यह मंत्र हर बाधा से दूर रखता है और माता की कृपा बनाए रखने में मदद करता है.

ये नवरात्री के मन्त्र दुर्गा के चमत्कारी और फलदायक मंत्रों में से है. इन मन्त्रों से ज़िन्दगी में आने वाली बाधाओं का सामना करने की हिम्मत आती है. दुर्गा देवी की कृपा बनाए रखने के लिए सबसे उत्तम मंत्र है.

इस नवरात्री इन तीनो नवरात्री के मन्त्र का जाप करके अपनी ज़िन्दगी को बाधा मुक्त बना सकते है. इसलिए इन नव दिन इन मन्त्रो का जाप जरुर करें और माता दुर्गा की कृपा प्राप्त करें.

Don't Miss! random posts ..