ENG | HINDI

स्पा मैनेजमेंट – जहाँ मिलता है सफल करियर के साथ है अच्छी आमदनी का मौका !

स्पा मैनेजमेंट

स्पा मैनेजमेंट – वो जमाना कुछ और था जब ज्यादातर युवा डॉक्टर या फिर इंजीनियर बनने का ही सपना देखा करते थे, क्योंकि आज के इस आधुनिक दौर में पारंपरिक नौकरियों के बजाय युवा कुछ नए क्षेत्रों में भी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं.

आज के युवा डॉक्टर या इंजीनियर बनने के बजाय योगा इंट्रक्टर या जिम ट्रेनर बनकर भी लोगों की हेल्थ संवारने के साथ मोटी कमाई कर रहे हैं.

वैसे आज के इस दौर में कई ऐसे क्षेत्र युवाओं के लिए खुले हैं जहां वो ना सिर्फ अपना सुनहरा भविष्य तलाश सकते हैं बल्कि अच्छी खासी इनकम भी पा सकते हैं.

अगर आप भी पारंपरिक नौकरियों से हटकर किसी अलग क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो हम आपको बताने जा रहे हैं एक ऐसा ही क्षेत्र जहां आप अपने करियर को एक नया आयाम दे सकते हैं.

स्पा मैनेजमेंट –

स्पा मैनेजर बनकर संवारे अपना करियर

आज के दौर में अधिकांश लोग तनाव और अत्यधिक थकान से राहत पाने के लिए स्पा थेरेपी का सहारा लेते हैं इसके लिए बकायदा अच्छे-अच्छे स्पा भी चलाए जा रहे हैं.

आप चाहें तो एक स्पा मैनेजर के तौर पर अपने करियर को नई ऊंचाईयों तक ले जा सकते हैं. बतौर स्पा मैनेजर आपके कंधे पर पूरे स्पा को बेहतर तरीके से संभालने की जिम्मेदारी होगी.

आपको दूसरे स्टाफ पर नजर रखने के साथ-साथ ऑर्डर की सप्लाई, क्लाइंट को अच्छी सर्विस देना और स्पा में ज्यादा से ज्यादा लोगों को सर्विस लेने के लिए प्रोत्साहित करना होगा.

इसके अलावा आपको स्पा के लिए कुछ मार्केटिंग एक्टीविटीज और मार्केटिंग प्लानिंग में भी अपना योगदान देना होगा. यानि कुल मिलकार स्पा की ढेर सारी जिम्मेदारी आपको निभानी होगी.

स्पा मैनेजमेंट के लिए जरूरी स्किल्स

अगर आप स्पा मैनेजमेंट के क्षेत्र में कामयाबी का नया इतिहास रचना चाहते हैं तो फिर आपके अंदर कुछ खास गुणों का होना भी बेहद जरूरी है. जैसे- कंप्यूटर नॉलेज, बेहतर कम्युनिकेशन स्किल, इंटरपर्सनल स्किल और मार्केटिंग स्किल.

अगर आपके ऊपर पूरे स्पा को मैनेज करने की जिम्मेदारी है तो आपके अंदर ऑर्गेनाइजेशन स्किल का होना भी जरूरी है. इसके अलावा आपके भीतर एक लीडरशिप क्वालिटी होनी चाहिए और आपको स्पा इंडस्ट्री के बारे में भी जानकारी होनी चाहिए, तभी आप अपने काम को बेहतर तरीके से अंजाम दे पाएंगे.

यहां से ले सकते हैं स्पा मैनेजमेंट की डिग्री

आप स्पा मैनेजमेंट और ह्यूमन रिसोर्सेज जैसे कोर्सेस में डिप्लोमा, डिग्री या पोस्ट ग्रेजुएशन भी कर सकते हैं. लेकिन अधिकतर जगहों पर नौकरी के लिए बैचलर डिग्री ही काफी है.

इस कोर्स को करने के लिए आप केरल के अन्ना बेल स्पा इंटीट्यूट, गुजरात के हेयर एंड ब्यूटी एकेडमी, केरल के प्योरटच स्पा एकेडमी, महाराष्ट्र के इंटरनेशनल स्कूल ऑफ एस्थेटिक्स एंड स्पा और देश के विभिन्न क्षेत्रों में स्थित आईएसटीएचएए- स्पा एंड आयुर्वेद एकेडमी में एडमिशन ले सकते हैं.

स्पा मैनेजमेंट के क्षेत्र में संभावनाएं

आज के दौर में लोग जितनी ज्यादा भागदौड़ कर रहे हैं उतने ही ज्यादा अपनी सेहत को लेकर जागरुक भी हो रहे हैं. इसी के मद्देनजर तकरीबन देश के हर शहरों में जिम एंड स्पा की सुविधा शुरू की गई है. यही वजह है कि इस क्षेत्र में जॉब को भी एक नई गति मिली है.

आप एक स्पा मैनेजर के तौर पर पार्ट टाइम, फुल टाइम या कॉन्टैक्ट बेसिस पर भी काम कर सकते हैं. वैसे स्पा मैनेजर की जरूरत होटल रिसोर्ट, हेल्थ क्लब, क्रूज शिप या सैलून जैसी जगहों पर भी काम कर सकते हैं और अगर देश में काम करने का मन नहीं है तो फिर विदेशों में भी आप अपने लिए नौकरी तलाश सकते हैं.

गौरतलब है कि एक स्पा मैनेजर की तनख्वाह उसके अनुभव पर काफी हद तक निर्भर करती है. फिर भी शुरूआती दौर में स्पा मैनेजर के तौर पर आप 10 से 15 हजार रुपये बहुत ही आसानी से कमा सकते हैं. लेकिन बढ़ते अनुभव के साथ-साथ आपकी इनकम भी बढ़ती जाएगी.

 

Don't Miss! random posts ..