ENG | HINDI

भगवान के आदेश के आगे ख़ामोश हुई ” आदेश श्रीवास्तव ” की आवाज़!

adesh-shrivastava

जानेमाने संगीतकार आदेश श्रीवास्तव अब हमारे बीच नहीं रहे।

पांच साल के लम्बे समय से कैंसर से जूझ रहे आदेश श्रीवास्तव आखिरकार जिंदगी की जंग हार गए। उनका बीती रात करीब 12.30 बजे मुंबई के कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में निधन हो गया।

वो 50 साल के थे। 4 सितंबर यानि कल ही उनका जन्मदिन था। कल ही बतौर संगीतकार उनकी आखिरी फिल्म ‘वेलकम बैक’ भी रिलीज हुई।

आदेश श्रीवास्तव पिछले 45 दिनों से अस्पताल में भर्ती थे। उनका इलाज कर रहे डॉक्टरों ने हाल ही में कीमियोथेरेपी भी बंद कर दी थी। क्योंकि उनका शरीर इसको लेकर रिएक्ट नहीं कर रहा था। पहली बार आदेश को कैंसर का पता 2010 में लगा था।

डेढ़ महीने पहले ही वो अमेरिका से इलाज करा कर लौटे थे फिर अचानक उनकी तबीयत बिगड़ती चली गई। आदेश अपने पीछे पत्नी और दो बेटों को छोड़ गए हैं। उनकी पत्नी विजेता पंडित बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री रह चुकी हैं, विजेता पंडित के भाई जतिन-ललित भी संगीतकार हैं।

उनके निधन से बॉलीवुड में शोक की लहर दौड़ गई है। अभिनेता अमिताभ बच्चन और शाहरुख खान सहित फिल्म जगत से जुड़े तमाम सितारे आदेश की सेहत पर नजर बनाए हुए थे और उनकी सलामती की दुआ मांग रहे थे।

आदेश ने बॉलीवुड की कई हिट फिल्मों में संगीत दिया था। आदेश को 1993 में फिल्म ‘कन्यादान’ से हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में ब्रेक मिला था। उस फिल्म में लता मंगेशकर ने गीत गाया था लेकिन फिल्म किन्हीं कारणों से रिलीज नहीं हो पाई थी। फिल्म ‘आओ प्यार करें’ का गाना ‘हाथों में आ गया जो’ काफी लोकप्रिय हुआ था और इस गाने ने ही आदेश को बॉलीवुड में पहचान दिलाई थी।

आदेश ने चलते-चलते, बाबुल, बागबान, कभी खुशी-कभी गम, अपहरण, राजनीति समेत 100 से ज्यादा फिल्मों में संगीत दिया। साल 2005 और 2009 में आदेश श्रीवास्तव म्यूजिकल टैलेंट हंट शो ‘सारेगामापा’ में जज बने थे।

आदेश पूरी फिल्म इंडस्ट्री में ज़रूरतमंदों को मदद करने की अपनी आदत के लिए जाने जाते थे. आदेश एक अच्छे म्यूजिक डायरेक्टर होने के साथ साथ एक अच्छे इंसान के रूप में भी काफी मशहूर थे| नए टैलेंट को मौका देने के हर संगीत प्रेमी उनका प्रशंसक था.

कम उम्र में अचानक आदेश की मौत ने बॉलीवुड को गमगीन कर दिया है। देर रात आदेश श्रीवास्तव की मौत की खबर सुनते ही बॉलीवुड की हस्तियों ने ट्विटर पर अपनी संवेदनाएं व्यक्त करना शुरू कर दिया|

आज यह बहुत दुःख की बात हैं कि “मोरा पिया मोसे बोलत नाहीं” जैसे कई सुपरहिट गानों को तैयार करने वाले आदेश अब हम से और पूरी फिल्म इंडस्ट्री से अब कुछ नहीं कहेंगे.

उनके द्वारा संगीतबद्ध यह गीत हम आप सब की तरफ से आदेश श्रीवास्तव को श्रद्धांजली के रूप में आप के साथ शेयर कर रहे हैं.

विडियो लिंक-

Don't Miss! random posts ..