ENG | HINDI

एक ऐसी फिल्म जिसने रचा इतिहास मगर इसके एक्टर्स कर रहे हैं बेशर्मी 

कहते हैं कि मुंह पर मेकअप लगते ही इंसान इतना घमंडी हो जाता है कि फिर वो अपने होश में नहीं रहता. ये कहावत खासतौर पर एक्टर्स के लिए बनी है. फिल्म इंडस्ट्री में काफी संघर्ष के बाद लोगों को काम मिलता है, लेकिन जैसे ही काम मिल जाता है इन एक्टर्स के भाव बढ़ जाते हैं. खुद को भगवान् समझ बैठते हैं. ऐसा ही कुछ हो रहा है आजकल एक ऐसी एक्ट्रेस के साथ जिसकी फिल्म ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए.

इतनी लकी है ये हीरोइन की फिल्म की स्क्रिप्ट इसके अनुरूप लिखी जाती है. इसे ध्यान में रखकर ही फिल्म लिखी जाती है. फिल्म में हीरोइन के कितने और कैसे सीन होंगे ये सब इस हीरोइन से पूछकर ही रखा जाता है. ऐसा अवसर हर हीरोइन को नहीं मिलता.

इस हीरोइन का नाम है देवसेना उर्फ़ अनुष्का शेट्टी, जी हाँ, वही अनुष्का जिनके लिए बाहुबली लिखी गई. सेकंड पार्ट में तो अनुष्का ने कमाल की एक्टिंग की. अनुष्का की इसी एक्टिंग से प्रभावित होकर बॉलीवुड के जाने माने डायरेक्टर कारन जौहर ने उन्हें अपनी एक फिल्म ऑफर की, लेकिन देवसेना ने इसे ठुकरा कर करण की न सिर्फ बीज़ती की बल्कि ये भी जता दिया कि जहाँ बाहुबली की इज्ज़त नहीं वहां वो काम नहीं करेंगी. अनुष्का का ये रवैया बहुत ही बेकार था. इस तरह से किसी की तौहीन करना उन्हें शोभा नहीं देता, लेकिन अनुष्का ने ये सब शायद प्रभास के कहने पर किया हो.

सूत्रों की मानें तो करण जौहर प्रहास को बॉलीवुड में लांच करने वाल इथे, लेकिन उसके लिए प्रभास ने २० करोड़ रूपए मांगे, जो करण को हैरान कर गया. करण ने बाहुबली को न कह दिया और फिर देवसेना को रोल ऑफर किया, लेकिन देवसेना यानी अनुष्का ने भी करण को मन कर दिया.

आज बॉलीवुड में अपनी किस्मत चमकाने के लिए लोग सोचते हैं कि उन्हें करण जौहर के बैनर की फिल्म मिल जाए, लेकिन अनुष्का का ये घमंड ये दर्शाता है कि बाहुबली की सफलता ने शायद उनका मन बढ़ा दिया है.

Don't Miss! random posts ..