ENG | HINDI

दुनिया का सबसे बड़ा पहलवान जिसने शेर को भी हरा दिया था

सबसे बड़ा पहलवान

सबसे बड़ा पहलवान – भारत में यदि पहलवानी की बात की जाए तो सबसे पहली तस्वीर गामा पहलवान और दारा सिंह जैसे पहलवानो की आती है. ज्यादातर पहलवानी में भारत के ही पहलवान जाने जाते हैं मगर विदेशी धरती पर भी कुछ ऐसे पहलवान हुए हैं जिन्होंने दुनिया भर में अपना नाम कमाया है.

ऐसे ही एक पहलवान थे यूजेनसैंडो जिन्होंने अपने देश जर्मनी ने के लिए खूब वाह वाही बटोरी. कभी एक दुबला पतला शरीर लेकर घुमा करते थे सैंडो लेकिन फिर कुछ ऐसा हुआ जिसने उन्हें पूरी तरह से बदल दिया, उस एक घटना ने उनका नाम इतिहास के पन्नों में कुछ इस तरह लिखा की आज को उन्हें मॉर्डन बॉडी बिल्डिंग का फ़ॉदर माना जाता है.

सबसे बड़ा पहलवान 

मूर्तियों से हुए थे प्रभावित

सैंडो का जन्म जर्मनी के कोनिसबर्ग नाम के शहर में हुआ था लेकिन बाद में वह इंग़्लैंड शिफ्ट हो गए. कहा जाता है की सैंडो काफी बीमार और कमजोर रहा करते थे क्योंकि उनका लीवर काफी बढ़ा हुआ करता था.

वह एक बार अपने पिता के साथ इटली के रोम और फ्लोरेंस के अजायबघर घूमने गए थे. वहाँ पहुंचकर सैंडो ने कई ताकतवर और बलिष्ठ कद काठी के इंसानो की मूर्तिया देखी. उनकी सुगठित आकृति देखकर उन्होंने अपने पिता से पूछा कि क्या इस कद काठी के इंसान भी होते हैं? उनके पिता बताया कि यह लोग इतिहास के वह योद्धा हैं जो हथियार से कम और अपने शरीर से ज्यादा लडा करते थे. इसलिए यह इतने बलवान शरीर के हुआ करते थे. यह बात जानने के बाद उन के ऊपर बलवान बनने का जुनून कुछ इस कदर हावी हुआ की वह थोड़े ही दिन में कसरत करने लगे.

सबसे बड़ा पहलवान

सबसे बड़ा पहलवान अपनी ताकत की करते थे नुमाइश

उस समय पहलवानी में ज्यादा पैसा नहीं था. इसलिए पहलवान लोगों के आगे अपनी ताकत की नुमाइश करके पैसा कमाया करते थे. सैंडो ने पहली बार 280 पाउंड का भार बडी ही आसानी से उठा के दिखाया था.

इसके बाद सैंडो ने लोहे के दो मोटे रॉड को तोडकर जनता को हैरान कर दिया था. इस करतब के बाद सैंडो ने पैसो से ज्यादा नाम कमा लिया था और वह काफी ज्यादा मशहूर हो गए थे.

सबसे बड़ा पहलवान

सबसे बड़ा पहलवान ने शेर तक को पछाड़ दिया

जब सैंडो अमेरिका के सैनफ्रांसिस्को शहर गए तो वहाँ उन्होंने शेर से लड़ने का एलान किया और बड़ी जोर शोर से विज्ञापन प्रकाशित किया. जिस स्थान पर ये खेल होना था वहाँ पर 20 हजार दर्शक बैठने का इंतेजाम किया गया. जिस शेर से सैंडो की लड़ाई होने वाली थी वह 530 पाउंड वजन का एक खूंखार शेर था.

सैंडो जैसे ही अखाड़े में उतरे शेर उनके ऊपर गरजते हुए टूट पड़ा, सैंडो ने बडी ही फूर्ती के साथ उसकी गर्दन और कमर को पकड़ लिया और आसमान की तरफ उठाते हुए जोर से जमीन पर पटक दिया और उसकी गर्दन को पकड उसे जमीन पर फेंक दिया. शेर चारो खाने चित हो गया था. 

सबसे बड़ा पहलवान

ये था सबसे बड़ा पहलवान सैंडो ने अपने इस कारनामे से दुनिया भर में खूब शोहरत हासिल की. यहाँ तक की बॉलीवुड सूपरस्टार सलमान खान के चाचा नईम खान तक उनके कारनामों और किताब से प्रभावित होकर अखाड़े और देसी पहलवानी के दिवाने हो गए और उन्होंने भी कसरत करना शुरू कर दिया.

Don't Miss! random posts ..