ENG | HINDI

इस खास अंगूठी को धारण करने से धन-सपंत्ति में होती है कमाल की बरकत !

कछुए की अंगूठी

आज के इस दौर में लोग कम समय में ना सिर्फ कामयाबी हांसिल करना चाहते हैं बल्कि वो अपनी धन-संपत्ति में दिन दोगुनी और रात चौगुनी की रफ्तार से बढ़ोत्तरी की चाह रखते हैं.

ज्योतिष शास्त्र में विश्वास करनेवाले लोग अक्सर कई तरह के टोटके आजमाते हैं ताकि वो जल्दी से सफलता पा सकें और उनकी आर्थिक स्थिति में बरकत होती रहे.

आपने देखा होगा कि लोग अक्सर नौ रत्नों में से अपनी कुंडली के अनुसार रत्नों की अंगूठियां बनवाकर अपनी उंगलियों में पहनते हैं. कुछ लोग तो अपनी कई उंगलियों में अंगूठियां पहनते हैं ऐसे लोगों का मानना है कि ऐसा करने से उनके साथ सब शुभ ही होता है.

लेकिन आज हम आपको जिस खास अंगूठी के बारे में बताने जा रहे हैं उसे पहनने के लिए आपको ना तो अपनी कुंडली देखने की जरूरत है और ना ही ज्यादा पैसे खर्च करने की. मान्यता है कि इस खास अंगूठी को धारण करने से धन-संपत्ति में बरकत तो होती ही है इसके साथ ही इससे होते हैं कई और फायदे.

कछुए की अंगूठी है आर्थिक संपन्नता का प्रतीक

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार कछुआ भगवान विष्णु के विभिन्न अवतारों में से एक माना जाता है. कछुआ शांति, धैर्य, निरंतरता और समृद्धि का प्रतीक है. कहा जाता है कि विष्णु पत्नी लक्ष्मी समुद्र मंथन से प्रकट हुई थीं इसलिए कछुआ लक्ष्मी जी का भी प्रिय होता है.

मान्यता है कि कछुए की अंगूठी पहनने वालों को पैसों की तंगी नहीं होती है इसलिए आजकल ज्वैलरी बाजार में कछुए के अंगूठी की जबरदस्त डिमांड बनी हुई है. इसे आर्थिक संपन्नता और स्थिरता का प्रतीक माना जाता है इसके साथ ही फैशन में भी कछुए वाली अंगूठी ने खास जगह बना ली है.

कछुए की अंगूठी धारण करने से होनेवाले फायदे

– कछुए वाली इस खास अंगूठी को पहनने से व्यक्ति का आत्मविश्वास बढ़ता है. इसके साथ ही इस अंगूठी को लगातार पहने रहने से व्यापार में घाटा नहीं होता है और धन में लगातार बरकत होती है.

कहा जाता है कि इस अंगूठी का धारण करने से व्यक्ति हर काम को कछुए की तरह बड़े ही धैर्य और साहस के साथ करता है और इसी की वजह से वो सफलता की ओर बढ़ता है.

पौराणिक मान्यताओं और कथाओं के अनुसार, कछुआ भगवान विष्णु का कच्छप अवतार माना जाता है जो हर इंसान को धैर्य, शांति और विजय की ओर अग्रसर होने की प्रेरणा देता है.

कछुए वाली अंगूठी धारण करने से इंसान पर लक्ष्मी जी की कृपा होती है क्योंकि कछुआ उन्हें बेहद प्रिय है. इस अंगूठी को पहननेवालों की धन-संपत्ति में भी लगातार बरकत होती है.

हालांकि कछुए वाली इस खास अंगूठी को धारण करते समय इस बात का ख्याल रखना चाहिए कि कछुए का सिर वाला हिस्सा आपकी तरफ यानी ऊपर की तरफ हो, ताकि धन का आगमन आपकी तरफ हो.

गौरतलब है कि लोगों में कछुए की अंगूठी को लेकर दिनोंदिन क्रेज बढ़ता ही जा रहा है क्योंकि ये अंगूठी फैशनेबल होने के साथ-साथ आर्थिक संपन्नता की राह को भी आसान बनाती है.

Don't Miss! random posts ..