ENG | HINDI

खुशनुमा स्वभाव अपनाकर बीमारियों को रखें दूर

be-happy

आए दिन बीमारियां बढ़ रही है.

ऐसा कोई इंसान नहीं जिसे किसी बिमारी ने गले नहीं लगाया होगा.

पहले जमाने में बहुत कम बीमारियां होती थी. मधुमेह और हायपर टेंशन जैसे बीमारियां तब केवल अमीर लोगो को होती थी. उस समय लोगो की उम्र भी अधिक और तंदरुस्त रहती थी.

अब ऐसा क्या हुआ है, जिस कारण लोग हर कोई बीमारियों के चपेट में आ रहा है. जबक़ी आज के जमाने में सारी सुविधाये मौजूद है. विभिन्न प्रकार की बीमारियों पर इलाज है. दुनिया चाहे कितनी भी आधुनिक हो जाऐ, लेकिन अगर आपको बीमारियों से दूर रहना है तो स्ट्रेस को दूर रखना होगा.

अधिक बड़ी बीमारियों का कारण स्ट्रेस है, जो  शरीर और मानसीक रोगों को आमंत्रण देता है.

स्ट्रेस होने का कारण?
सबसे महत्वपूर्ण बात यही है कि जीवन शैली बदल गई है. जीवन में दौड़ भाग बढ़ गई है, यह एक बड़ी वजह है अनचाहे तरीके से स्ट्रेस धीरे धीरे बीमारी का रूप लेता है.

ये उपाय करके स्ट्रेस कम किया जा सकता है. oxidative स्ट्रेस है, जो कि फिजियोलॉजी स्ट्रेस से जुड़ा है. स्ट्रेस यानी तनाव जो शरीर और दिमाग दोनों पर बराबर अपनी बिमारियों का जाल डालता है.

stresshonekakaran

1 2 3 4 5 6

Don't Miss! random posts ..