ENG | HINDI

बजरंग बाण का पाठ करने से दूर होते हैं जीवन के ये सारे कष्‍ट

हनुमान जी को कलियुग का देवता कहा जाता है जो आज भी मनुष्‍य जाति की रक्षा करने के लिए हर समय उपस्थित रहते हैं। मान्‍यता है कि हनुमान जी की पूजा करने से जीवन की सभी तरह की समस्‍याओं से छुटकारा मिलता है और मनोकामनाओं की पूर्ति होती है। इसके अलावा आज के समय में हनुमान जी ही एकमात्र ऐसे देवता है जो पल में अपने भक्‍तों की मुरादें पूरी करते हैं।

अगर सच्‍चे मन से कोई हनुमान जी का स्‍मरण करता है तो उसकी हर समस्‍या का निदान होता है। हनुमान जी को प्रसन्‍न करने और अपनी समस्‍या के निदान के लिए हनुमान चालीसा के अलावा बजरंग बाण का पाठ करने का विधान है। आज हम आपको बता रहे हैं कि हनुमान जी के बजरंग बाण का पाठ करने से किन समस्‍याओं और कष्‍टों से मुक्‍ति मिल जाती है।

अगर किसी का विवाह नहीं हो पा रहा या विवाह में किसी भी तरह की परेशानी आ रही है तो हर मंगलवार और शनिवार के दिन पीपल के पेड़ के नीचे बजरंग बाण का पाठ करें। ऐसा करने से विवाह में आ रही हर तरह की बाधा का नाश होता है।

कहते हैं शनि देव के प्रकोप से बचने के लिए भी हनुमान जी की पूजा करनी चाहिए। हनुमान जी के भक्‍तों पर श‍नि देव हमेशा कृपा दृष्टि रखते हैं इसलिए अगर आप शनि देव के प्रकोप से परेशान हैं तो तिल के तेल का दीपक जलाकर 3 बार बजरंग बाण का पाठ करें। ऐसा करने से शनि की दशा के साथ-साथ राहु और केतु की महादशा भी शांत हो जाती है।

नौकरी में आ रही समस्‍याओं को भी हनुमान जी की भक्‍ति से दूर किया जा सकता है। अगर आपको नौकरी नहीं मिल रही है या आपकी नौकरी में किसी तरह की कोई मुश्किल आ रही है या फिर आपको अपनी नौकरी के छूटने का डर है तो आपको बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए। इसके अलावा मंगलवार के दिन व्रत भी रख सकते हैं।

जब किसी को कोई गंभीर बीमारी हो और इस पर दवा भी असर ना कर पा रही हो तो इसके निवारण के लिए 2 बार बजरंग बाण का पाठ करें। साथ ही संजीवनी पर्वत की रंगोली बनाकर उस पर तुलसी के 11 दल चढ़ाने से दवा धीरे-धीरे असर करने लगती है।

कई घरों और दफ्तर में वास्‍तुदोष होता है। इस वास्‍तुदोष के कारण जीवन में कई तरह के कष्‍ट और आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है। वास्‍तुदोष को खत्‍म करने के लिए तीन बार बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए।

हनुमान जी की भक्‍ति से आपके जीवन का हर कष्‍ट दूर हो सकता है। अगर आप किसी भी तरह की परेशानी या समस्‍या से घिरे हैं तो हनुमान जी की शरण में आकर उससे मुक्‍ति पा सकते हैं। हनुमान जी कर्ज से भी मुक्‍ति दिलाने में मदद करते हैं। अगर आपके ऊपर बहुत कर्ज चढ़ गया है और आप उसे चुका पाने में असमर्थ हैं तो आपको शनिवार और मंगलवार के दिन अपने पूरे परिवार के साथ सुंदरकांड का पाठ करना चाहिए।

हनुमान जी की कृपा रही जो आपके सारे कष्‍ट अवश्‍य ही दूर होंगें।

Don't Miss! random posts ..