ENG | HINDI

साँसों की बदबू हमेशा के लिए होगी दूर, करना होगा कुछ ऐसा

साँसों की बदबू

साँसों की बदबू – आम तौर पर हम खुद को साफ़ और सुन्दर रखने के लिए हर मुमकिन तरीका आज़माते हैं। चाहे वो चेहरे को गोरा दिखाने के लिए कोई महँगी क्रीम हो या फिर ताज़ी साँसों के लिए कोई टूथपेस्ट, हम सब ख़ुशी-ख़ुशी खरीद लेते हैं।

लेकिन कई बार यह महँगी क्रीम या टूथपेस्ट भी किसी काम नही आते। हमारे शरीर को बाहरी सफाई के साथ-साथ अंदरूनी सफाई की भी ज़रुरत होती है। अक्सर पिम्पल्स पर कोई भी नीम फेस वॉश असर करता नजर नहीं आता, वहीं अगर नीम का काढ़ा पी लो तो पिम्पल्स झट से गायब हो जाते हैं। उसी तरह दिन में दो बार ब्रश करने या माउथ वाश का इस्तेमाल करने पर भी साँसों की बदबू नही जाती। ऐसे में हमारा सारा ध्यान अपनी साँसों पर ही होता है। हम हर वक़्त यही देखते रहते हैं कि कहीं बदबू तो नहीं आ रही है।

इस साँसों की बदबू को दूर करने के लिए हम न जाने कितने ही टूथपेस्ट बदल लेते हैं, पर कोई फर्क नही पड़ता। दरअसल हम इस दुर्गन्ध की अन्य वजहों पर गौर करना अक्सर ही भूल जाते हैं।

आज हम आपको बताएंगे कि साँसों की बदबू के क्या कारण हो सकते हैं। साथ ही साथ हम ये भी जानेंगे कि इससे कैसे छुटकारा पाया जा सकता है। तो देर किस बात की, फटाफट पढ़ लीजिए यह आर्टिकल।

साँसों की बदबू

१ – ज्यादा से ज्यादा पानी पियें

साँसों की बदबू

हमारे शरीर में पानी की कमी से होने वाले कई नुकसानों के बारे में आप जानते ही होंगे। लेकिन आपको बता दें कि पानी की कमी के चलते मुँह से बदबू जैसी समस्या भी उपजती है। इसलिए कोशिश करें कि आपका मुँह कभी सूखा न रहे । मुँह में सलाइवा का सही फ्लो होना बेहद जरूरी है।

२ – ज्यादा कॉफ़ी से करें परहेज

साँसों की बदबू

कई लोगों का दिन कॉफ़ी पिए बिना शुरू ही नहीं होता है। लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि अधिक मात्रा में कॉफ़ी का सेवन साँसों में बदबू की एक वजह साबित हो सकता है। दरअसल अधिक कॉफ़ी पीने से मुँह सूखने लगता है और सलाइवा का बनना कम हो जाता है। जिससे मुँह से बदबू की शिकायत बनी रहती है।

३ – खाने के बाद हमेशा कुल्ला करें

साँसों की बदबू

खाने के बाद कुल्ला करना कभी न भूलें। इससे मुँह में फंसा खाना भी निकल जाता है और साँसों की बदबू से भी राहत मिलती है।

४ – टूथ ब्रश बदलना न भूलें

साँसों की बदबू

एक ही टूथब्रश का इस्तेमाल ज्यादा समय तक न करें । लंबे समय तक एक ही ब्रश के इस्तेमाल से इनमें तरह-तरह के बैक्टीरिया जन्म लेते हैं। जिससे मुँह से तो बदबू आती ही है। साथ ही यह सेहत के लिए भी नुकसानदायक है।

५ – अल्कोहल युक्त माउथ वाश के प्रयोग से बचें

साँसों की बदबू

अल्कोहल युक्त माउथ वाश का प्रयोग करने से आपका मुँह सूखता है, जिससे दुर्गन्ध आती है। इसलिए कोशिश करें कि अगर माउथ वाश खरीदें तो उसमें अल्कोहल न हो या कम मात्रा में हो।

६ – जीभ की करें सफाई

साँसों की बदबू

दाँतों के साथ-साथ जीभ की सफाई भी बेहद जरूरी है। जीभ की नियमित सफाई साँसों की बदबू रोकने में काफी मददगार साबित होती है।

७ – माउथ फ्रेशनर चुनते समय इस बात का रखें ध्यान

साँसों की बदबू

कई लोग साँसों की बदबू को दूर करने के लिए माउथ फ्रेशनर खाते हैं। लेकिन यह सिर्फ कुछ देर के लिए ही बदबू मिटाता है। बल्कि अधिक मीठे माउथ फ्रेशनर के इस्तेमाल से आपकी समस्या और भी बढ़ सकती है। इसलिए शुगर फ्री माउथ फ्रेशनर का ही उपयोग करें।

Don't Miss! random posts ..