ENG | HINDI

आख़िर क्यों ढक्कन लड़के को मिलती हैं स्मार्ट गर्लफ्रेन्ड !

बदसूरत लड़कों को ख़ूबसूरत लड़की

बदसूरत लड़कों को ख़ूबसूरत लड़की क्यों मिलती है! मॉल में किसी बेकार से लड़के के साथ ख़ूबसूरत सी लड़की को देखने के बाद आपका दिल भी जलता है, तो धुएं की तरह हवा में उड़ने की बजाय इस ख़बर को पढ़िए.

आख़िर क्यों आपके सूट-बूट के बाद भी लड़की आपको घास भी नहीं डालती.

असल में बदसूरत लड़कों को ख़ूबसूरत लड़की क्यों मिलती है –

बदसूरत लड़कों को ख़ूबसूरत लड़की –

1 – यस बेबी

लड़कियों की हां में हां, जो भी मिलाए उन्हें बहुत पसंद होता है. भले ही लड़का काला, पतला और कौवे जैसा हो, लेकिन लड़की की हां में हां मिलाता है और जो वो कहती है, उसे ही मानता है. लड़की कहे उठ, तो उठ जाता है औऱ कहे बैठ, तो बैठ जाता है. अब भला इतना प्यारा नौकर कोई लड़की क्यों गंवाना चाहेगी.

2 – दुम हिलाना

आप जैसे स्मार्ट लड़कों में एक फ़ालतू का एटीट्यूड होता है. वो ये कि आप जो कहें, वही सही है बाकी तो लड़की के पास दिमाग़ थोड़ी होता है. ऐसी सोच आपकी होने के कारण लड़की आपको घास नहीं डालती. वो सोचती है कि आप जैसे समझदार के आगे उसकी एक नहीं चलेगी, इससे बेहतर है कि वो अपनी चलाने के लिए किसी ढक्कन को ही पार्टनर बनाए.

3 – मनी मैटर्स

अक्सर समझदार लड़कों को लगता है कि लड़कियों के ऊपर पैसे ख़र्च करना पानी बहाना हुआ. ये लड़की कल को भाग जाएगी. लड़कियां भी इस बात को जानती हैं. ढक्कन लड़के सिर्फ़ और सिर्प़ उन्हीं लड़कियों के लिए अपने घर से भी पैसे मंगा लेते हैं. वो अपनी पॉकेट मनी भी उन्हीं के लिए ख़र्च कर देते हैं. उन्हें ऐसा लगता है कि एक पल के लिए भी लड़की अगर उनके साथ है, तो उन्हें ख़ुशी मिलेगी. ये बात लड़कियों को भी पता होती है. कई बार तो लड़कियां ढक्कन लड़कों के साथ कुछ इस कदर सेट हो जाती हैं कि उनसे शादी भी कर लेती हैं.

इन वजहों से बदसूरत लड़कों को ख़ूबसूरत लड़की मिल जाती है. लड़कियों का दिल जीतने के लिए आपके समझदारी की ज़रूरत नहीं है. बस, थोड़े से बेवकूफ़ बन जाइए और फिर देखिए आपके साथ भी लड़कियां घूमने के लिए लाइन लगा लेंगी.

Don't Miss! random posts ..