ENG | HINDI

एशियन गेम्स 2018 में इन धुरंदरों से हैं भारत को गोल्ड की उम्मीद

एशियन गेम्स 2018

एशियन गेम्स 2018 – कॉमनवेल्थ गेम्स में मिली सफलता के बाद अब भारतीय खिलाड़ियों को सामने आज से शूरू होने वाले 18वें एशिया गेम्स 2018 है।

इस टूर्नामेंट में पहले से बेहतर प्रदर्शन करना भारतीय खिलाड़ियों के लिए एक बड़ी चुनौती बन गया है। आपकों याद दिला दे कि बीते अप्रैल में अस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में कॉमनवेल्थ का आयोजन किया गया था, जिसमें भारत के खिलाड़ियों ने बेहद उम्दा प्रदर्शन करते हुए भारत के नाम कई ऐतिहासिक उपलब्धियां दर्ज कराई थी।

इस दौरान भारत मैडल लिस्ट में तीसरे स्थान पर पहुंच गया था।

कितने स्वर्ण, कितने रजत रहे थे भारत के नाम

बीते 21वें कॉमनवेल्थ खेल में भारतीय खिलाड़ियों ने कुल 66 पदक जीते थे, जिसमें 26 गोल्ड, 20 सिल्वर और 20 ब्रॉन्ज मेडल शामिल है। कॉमनवेल्थ में इस ऐतिहासिक पदक जीत के बाद भारत अब पदक की इस लिस्ट में तीसरे स्थान पर पहुंच चुका है। अब भारत के लिए खुद को इस लिस्ट में ऊपर लाना एशियन गेम्स 2018 में बड़ी चुनौती बना हुआ है। आपकों याद दिला दे कि इससे पहले साल 2010 में राजधानी दिल्ली में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत ने सर्वाधिक 38 गोल्ड मेडल जीते थे, जबकि साल 2002 के मैनचेस्टर कॉमनवेल्थ गेम्स में 30 गोल्ड मेडल जीते थे।

एशियन गेम्स 2018

21वें कॉमनवेल्थ खेल में भारतीय पदकों की लिस्ट

खेल स्वर्ण पदक रजत पदक कांस्य पदक कुल
निशानेबाजी 7 4 5 16
कुश्ती 5 3 4 12
भारोत्तोलन 5 2 2 9
मुक्केबाजी 3 3 3 9
टेबल टेनिस 3 2 3 8
बैडमिंटन 2 3 1 6
एथलेटिक्स 1 1 1 3
स्कवैश 0 2 0 2
पैरा पवरलिफ्ग 0 0 1 1

एशियन गेम्स 2018 का आगाज

जकार्ता के जीबीके स्टेडियम में होने वाले उद्घाटन समारोह से खेलों की औपचारिकता का आज आगाज होगा, तो वहीं खेलों की शुरूआत रविवार को जुड़े इन खेलों से जुड़े इवेंट्स के साथ होगी। सर्वप्रथम इन खेलों की शुरूआत 1951 में राजधानी दिल्ली से हुई थी, तो वहीं इससे पहले भी चौथे एशियाई खेलों का आयोजन जकार्ता में साल 1962 में किया जा चुका है। साल 1962 के बाद अब 18वें एशियन समारोह की एक बार फिर जकार्ता मेजबानी करेगा। बतां दे कि एशियन गेम्स 2018 के खेलों का आयोजन जकार्ता के अलावा पालेमबांग में भी आयोजित होगा।

एशियन गेम्स 2018

1962 में जकार्ता में भारत की मैडल लिस्ट

साल 1962 में भारत ने जकार्ता में कुल 52 पदक पर जीत दर्ज की थी, जिनमें 12 स्वर्ण, 13 रजत और 27 कांस्य पदक थे। इस साल के दौरान भारत पदकों की वियज दौड़ में तीसरे स्थान पर विराजमान था।

भारतीय खिलाड़ियों के द्वारा लगातार हुए धुआधार प्रदर्शन के कारण भारतवासियों की उम्मीदों उनसे और भी ज्यादा बढ़ गई है। आज हर भारतवासी की निगाहे एशियन गेम्स 2018 के साथ-साथ गोल्ड के धुरंधरों पर टीकी है। आज से शुरू हुए एशियन गेम्स का समापन 2 सितंबर को होगा। उद्घाटन समारोह में भालाफेंक खिलाड़ी मीरज चोपड़ा ने तिंरगा थामे भारतीय दल की अगुवाई की व रविवार से विभिन्न खेलों की स्पर्धाओं की शुरूआत का भी आगाज हो जायेगा।

Don't Miss! random posts ..