ENG | HINDI

जानिए क्या है अमित शाह का ऑपरेशन रोमियो

ऑपरेशन रोमियो

ऑपरेशन रोमियो – भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश की नब्ज पर हाथ रखते हुए एक ऐसा बयान दिया है जिसके बाद न केवल समाजवादी  पार्टी में माहौल गरमा गया है बल्कि अमित शाह ने भाजपा के लक्षित मतदाताओं को भी संकेतो में अपने इरादे जता दिए हैं.

अमित शाह ने घोषणा की कि उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनते ही सबसे पहले ऑपरेशन रोमियो चलाया जाएगा. यह एक ऐसा ऑपरेशन होगा कि जिसके बाद सपा के गुंडे सड़को पर नहीं नजर आंएगे. उनको पकड़कर जेलों में डाला जाएगा.

दरअसल मेरठ भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि यूपी के हर कॉलेज में एंटी – रोमियो स्क्वाड बनाने का ऐलान किया. हर कॉलेज में एंटी-रोमियो स्क्वाड बनाने के मकसद को बताते हुए अमित शाह ने कहा है कि इससे हमारी बच्चियां सुरक्षित रहेंगी.

आपको बता दें कि अमित शाह का यह ऑपरेशन रोमियो भले ही सपा के गुंडों के खिलाफ हो लेकिन उनका संकेत कहीं ओर था. गौरतलब हो कि मुजफ्फरनगर में जो सांप्रदायिक दंगा हुआ था उसके पीछे भी एक हिंदू लड़की से छेड़छाड़ और उसके बाद उसके भाइयों और आरोपी व्यक्ति की हत्या थी.

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले के कवाल गांव में पास के मलिकपुरा गांव की लड़की से स्कूल आते जाते समय वहां का स्थानीय मुस्लिम युवक छेड़छाड़ करता था. इसकी लेकर वहां पर सांप्रदायिक दंगा हुआ था.

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जिस प्रकार स्कूल आती जाती लड़कियों से छेड़छाड़ और मुस्लिम युवकों द्वारा हिंदू लड़कियों को कथित लव जिहाद का निशाना बनाने को लेकर माहौल गर्म है.

यहां जिस प्रकार की लचर कानून व्यवस्था की स्थिति है उसको देखते हुए हिंदू अपनी लड़कियों को लेकर हमेशा ही चिंता में रहते हैं. अपने बयान के जरिए अमित शाह ने हिंदुओं के इसी डर को छुआ है.

अमित शाह के इस बयान के बाद जैसा की उम्मीद थी कि विपक्ष की ओर से प्रतिक्रिया आंएगी वह भी शुरू हो चुकी है. लेकिन इसमें सबसे अधिक हैरान कर देने वाली प्रतिक्रिया आई आम आदमी पार्टी की ओर से.

आम आदमी पार्टी संयोजक व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर हमला बोला है. उन्होंने अमित शाह के एंटी-रोमियो स्क्वाड वाले बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि बच्चियों को सबसे ज्यादा खतरा तो भाजपा वालों से है.

बहराल, कुछ भी हो अमित शाह ने उत्तर प्रदेश के चुनावों खासकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में एक बड़े मतदाता वर्ग की नब्ज पर हाथ रखकर जो दांव चला है उससे सपा को निकलने का रास्ता ही नहीं मिल रहा है.

ऐसा लगता है कि विपक्ष चुनाव से पहले ही अमित शाह के एंटी ऑपरेशन रोमियो में उलझ गया है.

 

Don't Miss! random posts ..