ENG | HINDI

इस पॉलिटिशियन ने संसद में ही कर दिया अपने पार्टनर को प्रपोज़

अपनी गर्लफ्रेंड को प्रपोज़ करने के लिए लड़के क्या कुछ नहीं करते. कभी बीच रोड पर घुटनों के बल बैठ जाते हैं तो कभी भीड़ में माइक पर अपने प्यारा का इज़हार करते हैं. कभी चलती ट्रेन की छत पर प्यार को कबूल करवाते हैं तो कभी कुछ और, लेकिन ये सब कुछ नहीं है. इस दुनिया में प्यार को दर्शाने का और भी कई तरीका है. एक ऐसा तरीका है जो शायद ही आज तक आपने सुना होगा. एक व्यक्ति ने अपने प्यार को संसद में की प्रपोज़ कर दिया.

ये खबर है ऑस्ट्रेलिया की. जहाँ पर लोग अपने प्यार का इज़हार करने के लिए समय और लोग नहीं देखते. भारत मने जिस तरह से लोग शर्माते हैं वहां पर वैसा नहीं होता. कोई भी लड़का लड़की कहीं भी शुरू हो जाते हैं. यहाँ पर लोग खुलेआम अपने प्यार का इज़हार करते हैं. ऑस्ट्रेलिया की संसद में सोमवार को उस समय एक दिलचस्प वाकया देखने को मिला, जब सांसद टिम विल्सन ने अपने पार्टनर रायन बोल्गर को संसद के निचले सदन में सम्लैंगिंग विधेयक के  पेश होने के थोड़ी ही देर बाद शादी का प्रस्ताव दे दिया. इस प्रस्ताव को संसद के निचले सदन में अपनी तरह का पहला वाकया माना जा रहा है.

जिस समय उस शख्स ने अपने प्यार का इजहार किया उस समय संसद खचाखच भरा हुआ था, लेकिन उसने किसी की परवाह किए बगैर ही अपने पार्टनर को वहीँ खुलेआम प्रपोज़ कर दिया. भारत होता तो इस बात का संसद में बहुत विरोध होता और लोग वही पर एक-दूसरे पर चीखना चिल्लाना शुरू कर देते , लेकिन वहां पर एस अकुछ नहीं हुआ. बड़ी सादगी से दोनों ने एक दुसरे के प्यार को स्वीकार किया और वहां संसद में बैठे सभी सांसद ने इस बात पर ख़ुशी जताते हुए तालियों के साथ दोनों कपल का स्वागत किया.

विल्सन पिछले ९ साल से बोल्गर के साथ रिश्ते में हैं. बोल्गर पेशे से एक शिक्षक हैं. विल्सन ने संसद में समलैंगिक विवाह के मुद्दे पर भाषण के दौरान उन्होंने अपने प्रस्ताव की पुष्टि की. बोल्गर प्रस्ताव के समय कक्ष में मौजूद थे और उन्होंने स्पष्ट रूप से इसका जवाब ‘हां’ में दिया. इस विधेयक को क्रिसमस के पहले मंजूरी मिलने की उम्मीद है. विधेयक को पिछले हफ्ते सेनेट से मंजूरी मिली थी.

इस प्यार में दोनों ही पढ़े लिखे हैं फिर भी सैम लैंगिक विवाह की तरफ बढ़ रहे हैं. उन्हें पता है कि ये प्राकृतिक रूप से सही नहीं है , लेकिन आज इंसान ख़ुशी किसी में भी खो लेता है, क्योंकि जो प्रकृति ने बनाया है उस्मने इंसान की ख़ुशी अब नहीं रह गई. जब एक लड़का और लड़की शादी के बाद खुश नहीं रह सकते, तो ज़रूरत नहीं है उन्हें शादी जैसे पवित्र बंधन में बंधने का. एक न एक दिन वो दोनों अलग होते ही हिना उर फिर एक झटके में सभी रिश्ते टूट जाते हैं.

इसलिए अब बहुत ज़रूरी हो गया है कि आप शादी उसी से करें जिससे आपको प्यार हो, जिसके साथ आप पूरा जीवन बिता सकें और जिससे आपको कोई तकलीफ न हो.

Don't Miss! random posts ..