ENG | HINDI

एल्युमिनियम फॉयल का इस्तेमाल डाल रहा है आपकी सेहत पर असर

एल्युमिनियम फॉयल

आप भी एल्युमिनियम फॉयल में ही पैक करते होंगे खाना !

आजकल लगभग हर दूसरा इंसान खाने को गर्म रखने के लिए एल्युमिनियम फॉयल में खाना पैक करता है। पिछले कुछ सालों में इसका उपयोग बहुत बढ़ गया है और इसकी एक वजह ये भी है कि लोग इसमें खाना रखने को काफी हैल्दी समझते हैं पर असल में ऐसा नहीं है।

हां, ये बात सच है कि एल्युमिनियम फॉयल में खाना पैक करने से लंबे समय तक ताज़ा रहता है और बाहरी धूल-मिट्टी से भी सुरक्षित रहता है लेकिन इसके साथ ही इसके कुछ ऐसे नुकसान भी हैं जिन्हे नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता।

एल्युमिनियम फॉयल

बच्चों का टिफिन हो या फिर हसबैंड का लंच पैक करना हो, फॉयल आपके किचन का ज़रूरी सामान बन गई है। आप ये सोचकर एल्युमिनियम फॉयल में खाना पैक करते हैं कि ऐसा करने से खाने की फ्रेशनेस बनी रहेगी लेकिन असल में ऐसा नहीं है। एल्युमिनियम फॉयल में खाना पैक कर आप अनजाने में कईं रोगों को न्यौता दे रहे हैं। आज के वक्त में सिर्फ घरों में ही नहीं, बल्कि बाहर से लिए गए खाने को रैप करने के लिए एल्युमिनियम फॉयल का इस्तेमाल हो रहा है।

एल्युमिनियम फॉयल

अगर आप भी उन्ही  लोगों में से हैं जो रोटी या पराठे को रैप करने के लिए सबसे पहले एल्युमिनियम फॉयल ढूंढते हैं तो ये आर्टिकल खास आपके लिए है और इसमें दी गईं जानकारियों को पढ़ने के बाद आप एल्युमिनियम फॉयल का उपयोग करने से पहले दो बार सोचेंगे। आज के वक्त में लगभग सभी घरों में एल्युमिनियम का इस्तेमाल हो रहा है लेकिन असल में ये हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। जब हम किसी गर्म चीज़ को फॉयल में पैक करते हैं तो एल्युमिनियम गर्म हो जाता है और इसमें प्रतिक्रिया शुरू हो जाती है। जिस वजह से हमारे खाने में भी एल्युमिनियम के कुछ अंश मिल जाते हैं जो कि घातक है। इससे कईं बीमारियों के होने की संभावना बढ़ जाती है। एल्युमिनियम तत्व के खाने में मिलने से कैंसर जैसी गंभीर बीमारी के होने का खतरा बढ़ जाता है। साथ ही इससे अल्जाइमर और डिमेंशिया होने के चांसेज भी बढ़ जाते हैं। इसलिए अगर आप अपने और अपने परिवार को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो एल्युमिनियम फॉयल को तुरंत साइड कर दीजिए।

एल्युमिनियम फॉयल

आप शायद इस बात से अनजान होंगे लेकिन एल्युमिनियम का बहुत अधिक इस्तेमाल हमारी हड्डियों के लिए हानिकारक होता है।

अगर आप किसी एसिटिक चीज़ को या फिर कटे हुए फल और मसालेदार खाने को एल्युमिनियम फॉयल में रैप करते हैं तो उनका कैमिकल बैलेंस बिगड़ जाता है और इस वजह से वो हमारी सेहत पर बुरा असर डालती हैं। एल्युमिनियम तत्व की वजह से किडनी की समस्या होने का भी खतरा रहता है। इसलिए एल्युमिनियम फॉयल के इस्तेमाल से बचना चाहिए लेकिन अगर आप इसका यूज कर भी रहे हैं तो आपको कुछ चीज़ें ध्यान रखनी चाहिए जैसे कि फॉयल पेपर में बहुत गर्म खाना रैप नहीं करें। हल्के गर्म या फिर ठंडे खाने को ही इसमें पैक करें। इसके साथ ही आप अच्छी क्वालिटी के फॉयल पेपर का ही इस्तेमाल करें।

 

Don't Miss! random posts ..