ENG | HINDI

एक तरफ असदुद्दीन ओवैसी कहते है – नहीं बोलूँगा भारत माता की जय – दूसरी तरफ पाकिस्तानी कप्तान भारत की तारीफ करते है –

Akbaruddin Owaisi Controversial Speech

अभी हमारे देश में जो माहौल चल रहा है उसमे और कुछ हो ना हो लेकिन एक बात ज़रूर हो रही है.

वो है बयानों की बदौलत खबरों में रहने का दौर.

कभी राहुल गाँधी JNU जाकर कुछ बोल देते है. कभी उनका जवाब देने के लिए अनुपम खेर.

कभी कोई साध्वी या बाबा बवाल कर रहा है तो कभी राज ठाकरे ऑटो वालो को डरा रहे है. जब देश का हर एक फायर ब्रांड नेता अपनी जुबान से लोगों के बीच ज़हर घोल रहा हो तो ऐसे में अकबरुद्दीन ओवैसी कैसे चुप रह सकते है.

काफी समय से सुर्ख़ियों से दूर रहने वाले असदुद्दीन ओवैसी ने भी अब मौका देख कर चौका मार ही दिया.

owaisi-speech

कल एक सभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सर संचालक मोहन भागवत के उस बयान का जवाब दिया जिसमे भागवत ने कहा था कि ” कुछ लोग भारत माता की जय नहीं बोलते, उन्हें भारत माता की जय बोलना पड़ेगा.”

ओवैसी ने कहा कि ” मैं भारत माता की जय नहीं बोलता और अगर कोई गले पर छुरी भी रखेगा तो मैं भारत माता की जय नहीं बोलूँगा”

वैसे कमाल की बात ये है कि बिना किसी के दबाव में और बिना छुरी रखे ओवैसी साब ने भरी सभा में दो बार ज़ोर ज़ोर से भारत माता की जय बोल दिया.

असदुद्दीन ओवैसी के इस विवादास्पद बयान के बाद संघ की तरफ से हमेशा वाला जवाब आया. इस जवाब में कहा गया यदि ओवैसी भारत माता की जय नहीं बोलते तो उन्हें पाकिस्तान चला जाना चाहिए.

shahid-afridi

वैसे पाकिस्तान से याद आया कि उनके क्रिकेट कप्तान शाहिद  अफरीदी पर भी केस कर दिया गया है.

शाहिद ने एक प्रेस कांफ्रेंस में भारत और यहाँ के लोगों की तारीफ करते हुए कहा था कि उन्हें जितना प्यार पाकिस्तान में नहीं मिलता उससे ज्यादा भारत में मिलता है.

बेचारे अफरीदी ने भारत की तारीफ क्या कर दी, जावेद मियांदाद से लेकर हर कोई अफरीदी के पीछे हाथ धोकर पड़ गया. यहाँ तक की अफरीदी पर कोर्ट में केस भी कर दिया गया है.

हो सकता है वहां से भी कोई हाफिज सईद अफरीदी को बोल दे जाओ भारत चले जाओ.

ये तो मजाक की बात थी लेकिन ये सब बातें इस बात को और भी पुख्ता करती है कि भारत और पाकिस्तान बंटवारे के बाद भी एक जैसे ही है.

उसी प्रकार की घृणा फ़ैलाने वाली मूर्खतापूर्ण बयानबाज़ी, उसी प्रकार तिल  का ताड़ बनाना, उसी प्रकार सुर्ख़ियों में रहने के लिए हर तरह के हथकंडे अपनाना.

चलिए अब जाते जाते असदुद्दीन ओवैसी साब के नाम एक संदेश. आप कितनी भी घृणा फैला दें, भारत माता की जय बोले या ना बोले लेकिन जितनी सुरक्षा और आज़ादी आपको भारत में है उतनी दुनिया के किसी कोने में नहीं मिलेगी.

इसलिए ये फालतू बयानबाज़ी से हटकर देश के लिए कुछ सार्थक करे. वैसे ये बात संघ के मोहन भागवत पर भी लागू होती है.

आखिर किस किस को पाकिस्तान भेजोगे भागवत साब?

Don't Miss! random posts ..