ENG | HINDI

एक भाई मुख्यमंत्री बनकर संभाल रहा है राज्य और दूसरा भाई सैनिक बनकर संभाल रहा है देश की बॉर्डर !

शैलेंद्र मोहन

शैलेंद्र मोहन – यूपी में पूर्ण बहुमत पाकर यूपी की हवा बदलने वाले सीएम योगी आदित्यनाथ को कौन नहीं जानता ।

लेकिन फिर भी  सन्यासी का चोला आढे सीएम योगी आदित्यनाथ की असल जिंदगी के  बारे में बहुत कम लोग जानते हैं, क्योंकि  उन्होंने बहुत पहले ही घर बार छोङ दीक्षा ले ली थी । जिस वजह से उन्हें हमेशा से लोगो और जानवरों की सेवा करते ही देखा गया है।

सन्यासी सीएम योगी आदित्यनाथ उत्तराखंड गढवाल के रहने वाले हैं। उनका एक भरापूरा परिवार है। हालांकि सीएम योगी आदित्यनाथ का अब उनसे मिलना नही हो पाता। सीएम योगी आदित्यनाथ चार भाई और दो बहनें हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ के दो भाई काॅलेज में प्रोफेसर और एक भाई गढवाल रेजिमेंट  में सूबेदार है । और इस वक्त  भारत- चीन बाॅर्डर पर  तैनात हैं। चीन बाॅर्डर पर ड्यूटी पर तैनात सीएम योगी के छोटे भाई शैलेंद्र मोहन बहुत ही दिलेर और साहसी है।

घर में सभी सुख सुविधा होने के बावजूद भी उन्होंने देश की रक्षा के लिए बाॅर्डर पर खङा होना बेहतर समझा।

शैलेंद्र मोहन

जहाँ शैलेंद्र मोहन इस वक्त ड्यूटी पर है वो जगह पहाङो से घिरी हुई है । शहर की तरह कोई सुख सुविधा ऐशो आराम तो दूर भरपेट खाने के लिए भी सैनिकों को काफी इंतजार करना पङता है। उसके ऊपर से कब दुश्मन का हमला हो जाए कहना मुश्किल है ।

और शायद ये भी कोई  नहीं सोचा सकता कि यूपी जैसे बङे राज्य के सीएम का भाई  एक आम सैनिक की तरह सब सुख सुविधाओं को त्याग देश के बाॅर्डर पर देश रक्षा के लिए तैनात होगा। जब बाॅर्डर पर तैनात शैलेंद्र मोहन से उनके भाई सीएम योगी आदित्यनाथ के बारे में पत्रकारों ने पूछा तो शैलेंद्र का कहना था कि ”  सीएम बने के बाद योगी से उनकी केवल एक बार दिल्ली में मुलाकात हुई थी”। लेकिन सीएम योगी हमेशा उनसे कहते हैं कि पूरी ताकत के साथ देश की रक्षा करना । और शैलेंद्र मोहन भी यही मानते हैं कि वो किसी भी कीमत पर देश की रक्षा करेंगे।

हालांकि योगी आदित्यनाथ को भी ऐशो आराम की जिंदगी में कोई दिलचस्पी नहीं है। वो भले ही आज यूपी के सीएम बन चुके हो। लेकिन आज भी बिल्कुल साधा भोजन करना पसंद करते हैं इसके अलावा खाली वक्त में गाय और दूसरे जानवरों की सेवा करना  उन्हे बहुत पसंद है। और ऐसा कम ही देखा जाता है जब कोई व्यक्ति इतने ऊँचे पद पर होने के बाद भी किसी सुख सुविधा का भोग नही करता। जो उनकी निस्वार्थ भावना को दर्शाता है।

और माना पडेगा सिर्फ योगी आदित्यनाथ में ही नही उनके बाकी भाई बहनों में भी देश सेवा की वही निस्वार्थ भावना है जो सीएम योगी आदित्यनाथ में हम देखते हैं।

इसलिए एक दो भाई देश के युवाओं  को शिक्षा दे रहे हैं तो  एक बाॅर्डर पर देश की रक्षा कर रहा है। और योगी देश संभालने में अपनी पार्टी का सहयोग कर रहे हैं।

Don't Miss! random posts ..