ENG | HINDI

आमिर ख़ान की 7 ज़ोरदार फिल्में जिन्होंने उन्हें आमिर ख़ान बनाया!

aamir-khan

आमिर ख़ान को हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में काम करते हुए 27 साल हो चुके हैं और इस लम्बे करियर में उन्होंने अनेक फिल्में कीं, अनेक उतार-चढ़ाव देखे| कुछ फिल्मों में उनकी एक्टिंग अच्छी थी, कुछ में बुरी और कुछ ने उनके करियर का रुख ही मोड़ दिया|

आईये बात करें उनकी ऐसी ७ फिल्मों की जिन्होंने आमिर ख़ान को बाकी सब कलाकारों से अलग खड़ा कर दिया और एक अलग ही पहचान दे दी!

1) रंगीला
यह फ़िल्म आमिर के करियर की कुछ चुनिंदा बेहतरीन फ़िल्मों में से एक है! एक बिंदास टपोरी की भूमिका में आमिर ने सबका दिल जीत लिया और बता दिया कि कैसे एक एक्टर को किरदार बन के एक्टिंग करनी चाहिए, स्टार बनकर नहीं!

rangeela

 

2) दिल चाहता है
इस फ़िल्म में भले ही आमिर के साथ सैफ़ अली ख़ान और अक्षय खन्ना भी थे लेकिन आमिर के स्टाइल और एक्टिंग ने सबको उनका दीवाना बना दिया! एक कूल डूड की भूमिका में उन्होंने देश भर के युवाओं को अपना बना लिया! हिंदी सिनेमा के लिए यह फ़िल्म एक सुखद बदलाव लेकर आई थी|

dilchahtahai

 

3) लगान
क्रिकेट पर इस से पहले भी कुछ फिल्में बनी थीं लेकिन लगान जैसी ना बनी, ना बनेगी! ये सिर्फ आमिर की एक्टिंग और उनका इस फ़िल्म की कहानी में दृढ़ विश्वास ही था जो इसे ऑस्कर्स तक भी ले गया! जनता का प्यार तो इसे आज तक मिल रहा है और कितनी बार भी इस फ़िल्म को देख लीजिये, आप बोर नहीं होंगे!

lagaan

 

4) सरफ़रोश
आमिर से पहले बहुत से एक्टरों ने पुलिस अफसर की भूमिका निभायी है लेकिन जिस शिद्दत और हक़ीक़त का रूप लेते हुए एक जांबाज़ पुलिस अफसर का रोल आमिर ने निभाया, उसका कोई सानी नहीं है! उनके साथ इस फ़िल्म में मंझे हुए कलाकार नसीरुद्दीन शाह भी थे लेकिन कहीं भी आमिर उनके सामने हलके नहीं पड़े! एक बार फिर ऐसी फ़िल्म दी उन्होंने जिसे हम हज़ारों बार देख सकते हैं!

sarfarosh

 

5) रंग दे बसंती
देशभक्ति और आज के युवाओं के जीवन पर आधारित इस फ़िल्म में आमिर ने कॉलेज स्टूडेंट के रूप में सारे देश को पागल कर दिया| इस बात में कोई दो राय नहीं है कि फ़िल्म की कहानी, गीत-संगीत और बाकि कलाकारों की एक्टिंग ने भी फ़िल्म की कामयाबी में बखूबी साथ निभाया लेकिन बिना आमिर के शायद ये फ़िल्म बिना शक्कर का हलवा बन जाती!

rangdebasanti

 

6) ग़जनी
आमिर अपने रोल को कितनी गंभीरता से लेते हैं इसका एक और जीता-जागता उदाहरण है यह फ़िल्म| ना सिर्फ़ आमिर ने इस के लिए अपने शरीर पर काम किया, गज़ब की 6-पैक एब्स वाली बॉडी बनायी, बल्कि इस फ़िल्म की मार्केटिंग भी ऐसी करवाई जो देश में पहले कभी नहीं हुई थी! गीत-संगीत उनकी बाकी फ़िल्मों की तरह उत्तम दर्जे का था ही!

ghajini

 

7) 3 इडियट्स
एक बार फिर से कॉलेज स्टूडेंट की भूमिका में नज़र आने वाले आमिर ने निर्देशक राजकुमार हिरानी के साथ हमें एक ऐसी फ़िल्म दी जो आने वाले कई दशकों तक बेहतरीन फ़िल्मों की सूची में शायद सबसे ऊपर नज़र आएगी! अपनी कद-काठी, हाव-भाव को किरदार के हिसाब से इतनी आसानी से बदल लेना शायद आमिर से अच्छा और कोई नहीं जानता!

threeidiots2

 

ऐसे ही नहीं उन्हें मिस्टर परफेक्शनिस्ट कहा जाता! हर किरदार में अपनी जान डाल देने वाले आमिर की अब अगली फ़िल्म होगी दंगल जिसके लिए उन्होंने फिर से अपने शरीर में गज़ब के बदलाव कर लिए हैं| हमें पूरी उम्मीद है कि यह उनके करियर में 4 चाँद ज़रूर लगाएगी!

Don't Miss! random posts ..