ENG | HINDI

जानिए आखिर क्यों आमिर खान ने 5 सालों तक फिल्मों में काम नहीं किया था?

परफेक्शनिस्ट आमिर खान

बॉलीवुड के मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान को लेकर हाल ही में एक बुक आई है।

इस बुक को लेखक और फोटोग्राफर प्रदीप चंद्रा ने लिखा है। इस बुक का नाम ‘आमिर खान: एक्टर एक्टिविस्ट एचीवर है। इस बुक का हिंदी अनुवाद प्रभात प्रकाशन ने आमिर खान नाम से छापा है। इस बुक में आमिर खान की जिंदगी के बारे में ऐसी कई बातें है जिसके बारे में हम लोगों को नहीं पता है।

इस बुक में परफेक्शनिस्ट आमिर खान के 5 साल तक फ़िल्मी दुनिया से दूर रहने के बारे में भी लिखा है।

दरअसल ये बात साल 2001 की है इस साल आमिर की होम प्रोडक्शन फिल्म लगान को जबरदस्त सफलता मिली। तो वहीं उसी साल उनकी शादीशुदा जिंदगी में भी दरार पड़ गई उनका अपनी पत्नी रीना से तलाक हो गया। इस तलाक ने आमिर को पूरी तरह तोड़ कर रख दिया जिस वजह से आमिर ने साल 2001 से 2005 के बीच कोई भी फिल्म साइन नहीं की। इतना ही नहीं इस दौरान उन्होंने कोई स्क्रिप्ट तक नहीं सुनी। शायद यह उनके जीवन का सबसे दुखद समय था। इस दौरान उन्होंने एक पत्रिका को दिए साक्षात्कार में बताया कि ‘जब मैं रीना से अलग हुआ तो मुझे महसूस हुआ कि मैं मानसिक और भावनात्मक तौर पर काम करने की स्थिति में नहीं हूँ, इसलिए मैंने काम करना बंद कर दिया।’

इस बीच आमिर फिल्मों से लगभग दूर ही चले गए थे, लेकिन निर्देशक केतन मेहता ने उनसे एक बार फिर संपर्क किया और उन्हें मंगल पांडे: द राइजिंग ऑफर की।

केतन मेहता जैसे निर्देशक और अच्छी पटकथा होने की वजह से आमिर को इस फिल्म की कहानी पसंद आई और उन्होंने इस फिल्म को साइन कर लिया। ये फिल्म 1857 की भारतीय स्वतंत्रता क्रांति पर आधारित थी। इस फिल्म में आमिर क्रांतिकारी मंगल पांडे के किरदार में थे। इस फिल्म को पूरी तरह बनने में पूरे तीन साल लगे इस दौरान आमिर मंगल पांडे के गेटअप में ही रहे। हालाँकि मंगल पांडे: द राइजिंग को बॉक्स ऑफिस पर उतनी सफलता नहीं मिल पाई लेकिन इस फिल्म और आमिर को क्रिटिकली काफी सराहना मिली।

ये फिल्म सफल तो नहीं हुई लेकिन परफेक्शनिस्ट आमिर खान ने इसके बाद से जो वापसी की है, वह काबिले-तारीफ है। इसके बाद आई आमिर की लगभग सभी फिल्में ना सिर्फ हिट हुई बल्कि बॉक्स ऑफिस पर आमिर की फिल्मों ने कई रिकॉर्ड तोड़े और कई रिकॉर्ड बनाये।

Don't Miss! random posts ..