ENG | HINDI

5 कारण, क्यों पाकिस्तान में ‘आतंकवाद’ खेल रहा है खूनी खेल

Terrorism in Pakistan

पड़ोसी देश पाकिस्तान में खूनी खेल अब रुकने का नाम नहीं ले रहा है.

आये दिन आतंकवादी कोई ना कोई घटना कर, अपने मनसूबों को जग जाहिर कर रहे हैं. पाकिस्तान सरकार हर बार एक ही बयान जारी कर देती है कि आतंकवादियों को बक्शा नहीं जाएगा.

अभी पिछले साल ही आतंकियों ने पेशावर के एक सैनिक स्कूल में घुसकर बेहद दर्दनाक तरीके से 132 से अधिक स्कूली बच्चों को मौत के घाट उतार दिया था और इस बार लाहौर के योहानाबाद इलाके के रोमन कैथोलिक और क्राइस्ट चर्च में दो बम धमाके हुए हैं. इन हमलों में एक बच्चे समेत 14 लोगों की मौत हो गयी. हमले में कम से कम 68 लोग घायल हुए. इन बम धमाकों की जिम्मेदारी आतंकी समूह जमात-उल-अहरार ने ली है. जिस वक़्त ये हमला हुआ, चर्च में तब प्रार्थना चल रही थी. ऐसा नहीं है कि आतंकवादी केवल मासूम लोगों पर ही हमला कर रहे हैं.

ज्ञात को कि मई, 2011 में आतंकियों ने कराची के एयरबेस से जुड़े नौ सैन्य अड्डा ‘पीएनएस मेहरान’ पर हमला कर, पाकिस्तान के दो युद्धक विमानों समेत को भी उड़ा दिया था. पाकिस्तान के अंदर बीते दस साल में लगभग 45000 लोगों की जान आतंकवादियों ने ली है.

आइये देखते हैं 5 कारण जिनकी वजह से आज पाकिस्तान आतंकवाद की आग में जल रहा है.

  1. सांप को दूध पिलाना हुआ खतरनाक

पाकिस्तान ने आतंकवाद को पहले अपने बच्चे की तरह पाला और उसे पाल-पोश कर बड़ा किया है. आज वही फल-फूल कर, उसी को दर्द दे रहा है. इस आतंकवाद का मुख्य मकसद तो एक ही था, हिंदुस्तान की सर-जमी को लाल करना, ऐसा इसने कई बार किया भी, मार्च 12, 1993 मुंबई में एक साथ 13 सीरियल बम ब्लास्ट हुए. इसके बाद संसद पर हमले से लेकर फिर से मुंबई ताज पर हमले तक कई बार मासूम लोगों की जान पड़ोसी देश का ही आतंकवाद ले चुका है. जग जाहिर है इसी आतंकवाद ने अमेरिका से लेकर इंग्लैंड, रूस और ना जाने कितने देशों में, इंसान और इंसानियत का कत्ल किया है. वर्तमान में यही सांप पाकिस्तान को अपना ज़हर पिला रहा है.

Taliban in Pakistan

Taliban in Pakistan

1 2 3 4 5

Don't Miss! random posts ..