ENG | HINDI

इन 3 लड़कों ने की आपस में शादी और बन गए दुनिया के पहले थ्रीसम गे कपल !

थ्रीसम गे कपल

हर इंसान को आजादी से जीने का अधिकार दिया गया है चाहे वो गे, लेस्बियन और ट्रांसजेंडर ही क्यों न हों. इतना ही नहीं कई देशों में इन लोगों की शादियों को भी वैध माना जाता है.

कहते हैं शादी से दो दिलों का मिलन होता है. इसलिए गे, लेस्बियन और ट्रांसजेंडर भी अब खुलकर अपनी भावनाओं का इजहार करते हैं इतना ही नहीं वो सेम जेंडर के पार्टनर से शादी तक कर लेते हैं.

आजकल तो गे, लेस्बियन के बीच शादी करने की बात आम हो गई है. लेकिन शादी तो सिर्फ दो लोगों के बीच होती है. पर हम जिस खबर से आपको रूबरू कराने जा रहे हैं उसे सुनकर यकीनन आपका सिर चकराने लगेगा.

3 लड़कों ने एक-दूसरे से की शादी – थ्रीसम गे कपल

हम आपको वाकिफ कराने जा रहे हैं थाईलैंड में घटी एक घटना से, जहां तीन गे लड़कों ने एक-दूसरे से शादी कर ली है. हालांकि यह पूरी दुनिया में थ्रीसम गे कपल का अबतक का इकलौता ऐसा मामला है जहां तीन लड़के एक-दूसरे के साथ शादी के बंधन में बंधे.

बताया जा रहा है कि इस तरह की शादी को थाईलैंड में मान्यता नहीं दी जाती है.

बावजूद इसके जोक, बेल और आर्ट नाम के इन तीनों लड़कों ने बौद्ध कानून के तहत इस शादी को अंजाम दिया. ये तीनों लड़के बकायदा सूट-बूट में आए और एक-दूजे के साथ रिंग एक्सचेंज की.

थ्रीसम गे कपल 5 साल से लिव इन रिलेशन में

कहा जाता है कि शादी से पहले ये तीनों लड़के एक साथ पिछले पांच साल से लिव-इन-रिलेशन में रहते थे. हालांकि सबसे पहले चियांग माई प्रांत के आर्ट की मुलाकात उथाई थाना प्रांत के जोक से हुई. जिसके बाद दोनों ने साथ रहने का फैसला किया. इसी दौरान दोनों की मुलाकात बेल से हुई और फिर तीनों एक साथ रहने लगे.

काफी समय तक साथ रहते-रहते तीनों लड़कों को एक-दूसरे से प्यार हो गया और फिर इन तीनों ने अपने रिश्ते को शादी में तब्दील करने का फैसला किया.

गौरतलब है कि भले ही थाईलैंड में इस तरह की शादी को गैरकानूनी माना जाता है. लेकिन बौद्ध कानून के तहद शादी करनेवाले ये तीनों लड़के दुनिया के पहले थ्रीसम गे कपल बनकर बेहद खुश हैं और ये उम्मीद जता रहे हैं कि उनकी शादी को जल्द ही मान्यता मिल जाए.

Article Categories:
संबंध

Don't Miss! random posts ..