ENG | HINDI

26 तारीख़ से ज़रा बचकर, आपदा के अनगिनत किस्से जुड़े है

pakistan-earthquake

कल 26 अक्तूबर को पाकिस्तान और भारत में भूकंप के तेज़ झटके लगे.

पाकिस्तान में तो जान माल का बहुत नुक्सान हुआ.

भूकंप, बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदाओं पर तो किसी का जोर नहीं होता. ऐसी आपदाओं के वैज्ञानिक कारण होते है वहीँ कुछ लोग इसे इश्वर से भी जोड़कर देखते है.

कल के भूकंप के बाद जब लोगों की नज़र तारीख पर पड़ी तो उनके आश्चर्य की सीमा ही नहीं रही .

ऐसा लगा जैसे 26 तारीख में ही कोई बात है. इतिहास खंगाले तो दुनिए के कई देशों में बड़े बड़े भूकम्प और अन्य आपदाएं 26 तारीख को ही आई है.

कहने वाले इसे अन्धविश्वास भी कह सकते है लेकिन अगर एक के बाद एक आपदाएं इसी तारीख़ पर होने लगे तो इसे अद्भुत संयोग ही कहा जायेगा.

आइये आपको बताते है 26 तारीख़ से सम्बंधित कुछ विशेष घटनाएँ…

26 दिसम्बर 2003 ईरान में भूकंप 

ईरान में आये 6.6 तीव्रता वाले इस विनाशकारी भूकम्प में करीब 25,000 लोगों की मौत हुई और करीब 30,000 से भी ज्यादा लोग घायल हुए थे.

26 दिसम्बर 2004 सुनामी 

2004 में आई इस विनाशकारी सुनामी की यादें आज भी लोगों का दिल दहला देती है. इतिहास की  शायद ये सबसे बड़ी प्राकृतिक आपदा थी. इंडोनेशिया, श्रीलंका, भारत और थाईलैंड इस सुनामी से मुख्य रूप से प्रभावित हुए थे. इस सुनामी का कारण समुद्र में आया 9.3 तीव्रता का भूकंप था. इस सुनामी में दुनिया के 14 देशों के करीब ढाई लाख लोग मारे गए थे. घायल होने वालों की संख्या तो इससे भी अधिक थी और शहर के शहर उजड़ गए थे.

26फरवरी 2010 जापान में भूकंप 

जापान में इस दिन 7 रिक्टर स्केल वाला भूकंप आया था जिसके साथ सुनामी की चेतावनी भी दी गयी थी .

26 जून 2010 तासिक भूकंप

इंडोनेशिया के तासिक में सन 2010 में एक तेज़ भूकंप आया. इस भूकंप से जान माल का कोई नुक्सान नहीं हुआ था.

26 जुलाई 2010 ताइवान भूकंप 

2010 में ताइवान में आया 6.7 स्केल का भूकम 1900 के बाद आया हुआ सबसे तेज़ भूकंप था. इस भूकंप में जान का इतना नुक्सान नहीं हुआ लेकिन संपत्ति का बहुत नुक्सान हुआ. तैवान के प्रमुख बिजलीघरों को अच्छा खासा नुक्सान हुआ साथ ही पुल रेलवे ट्रैक और इमारतों को भी अच्छा खासा नुक्सान हुआ.

26 अक्टूबर 2010 मेरापी ज्वालामुखी 

इंडोनेशिया का माउंट मेरापी एक सक्रिय ज्वालामुखी है. 2010 में अक्टूबर के अंत में ये फिर से सक्रिय होने लगा. इसकी वजह से करीब 3.5 लाख लोगों को सुरक्षित जगह पर भेजना पड़ा. करीब  350 लोगों की मौत भी हुई.

26 अक्टूबर सुनामी 

इंडोनेशिया में 2010 में भी सुनामी आई थी. इसका कारण भी समुद्र में आया भूकंप था. इस सुनामी में जान माल का अधिक नुक्सान नहीं हुआ. करीब 35,000 लोगों को सुरक्षित स्थान पर भेजा गया.

26 जनवरी 2001, गुजरात भूकंप 

2001 में आया गुजरात भूकंप देश में आई सबसे बड़ी विपदाओं में से एक है. 7.7 तीव्रता वाले इस भूकंप से हजारों लोगों की जान गयी थी और लाखों लोग घायल और बेघर हो गए थे. इस भूकंप का असर पाकिस्तान तक हुआ था.

26 जुलाई 2005 मुंबई अतिवृष्टि 

जुलाई में आई मुंबई की वो खौफनाक बारिश कौन भूल सकता है. उस बारिश ने ऐसा अहसास दिलाया था कि अब तो मुंबई जलमग्न ही होगी.

गुजरात में आई बाढ़ के एक महीने बाद ये बारिश हुई और पूरी मुंबई को इस बारिश ने रोक दिया. 26 जुलाई को शुरू हुई ये बारिश 31 जुलाई तक लगातार चलती रही. इस बारिश की वजह से करीब 1100 लोगों की जाने गयी और करोड़ों की संपत्ति की हानि हुई.

26 नवम्बर मुंबई पर आतंकवादी हमला 

मुंबई में हुआ पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी हमला 93 के धमाकों के बाद मुंबई के इतिहास की सबसे भयावह आतंकी हमला थी. मुंबई की पहचान कहे जाने वाले हर स्थान को आतंवादियों ने निशाना बनाया और उसके बाद सैंकड़ों निर्दोषों को अंधाधुंध गोली चलाकर मौत के घाट उतार दिया . कमाल की बात ये है कि ये  भी 26 तारीख के दिन ही हुआ था.

25/26 अप्रेल 2015 नेपाल भूकंप 

भारत और नेपाल में इस वर्ष आया भूकंप एक बहुत ही विनाशकारी भूकंप था. इस भूकम्प में 9000 से ज्यादा लोगों की मौत हुई और लाखों लोग घायल और बेघर हो गए. इस भूकम्प से नेपाल में भारी नुक्सान हुआ.

26 अक्टूबर हिन्दुकुश भूकंप 

हिन्दुकुश की पहाड़ियों में इस भूकंप का केंद्र था. पाकिस्तान और भारत में इस भूकंप का महसूस किया गया. भारत में जान माल की कोई खास हानि नहीं हुई. पाकिस्तान में अब तक समाचार मिलने तक करीं 250 लोगों की लाशें मिल चुकी है और सैंकड़ों घायल हो चुके है.

देखा आपने 25/26 तारीख का ये अद्भुत संयोग. भूकंप, बारिश, सुनामी या आतंकी हमला क्या क्या नहीं हुआ है इस मनहूस तारीख़ को.

तो क्या कहते है आप ?

ये मात्र के संयोग है या फिर इस तारीख़ में ही कुछ बात है.

Don't Miss! random posts ..