ENG | HINDI

खुश रहने के ये हैं 10 खास मंत्र जो जीवन में आपको कभी दुखी नहीं होने देंगे !

सुख और दुख एक ही सिक्के के दो पहलु है और हर इंसान को अपने जीवन में कभी ना कभी सुख और दुख रुपी सिक्के के दोनों पहलुओं का सामना करना ही पड़ता है.

जीवन के सुखी पलों को इंसान हंसते-खेलते गुजार देता है लेकिन दुख में वहीं इंसान हताश, निराश और परेशान हो जाता है. कभी-कभी उसे अपने दुखों से बाहर आने का कोई रास्ता नज़र नहीं आता है.

चाहे सुख हो या दुख हर व्यक्ति अपने तरीके से जिंदगी तो गुजार ही लेता है लेकिन दुख की घड़ी में भी खुश रहकर सफल जीवन जीने की कला हर किसी को नहीं आती है.

इसलिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं खुश रहने के ऐसे 10 खास मंत्र, जो आपको जीवन के किसी भी मोड़ पर दुखी नहीं होने देंगे.

1- हर व्यक्ति से प्रेमपूर्वक मिलें

जीवन में हरपल खुश रहने का सबसे पहला मंत्र यह है कि आप जब भी किसी से मिले तो उससे प्यार, मोहब्बत से मिलें. भले ही वो इंसान जैसा भी हो लेकिन उसे सम्मान दें और ऐसा करने के लिए आज से निश्चय करें.

2- स्थिति जैसी हो वैसी रहने दें

कभी-कभी हम किसी स्थिति को अपने हिसाब से बदलने की कोशिश में लग जाते हैं लेकिन फिर भी हालात जस के तस बने रहते हैं. इसलिए हर स्थिति को परफेक्ट बनाने के बजाय स्थिति जैसी हो उसे वैसी ही रहने दें, क्योंकि कुछ चीजों को परफेक्ट बनाने के चक्कर में बहुत कुछ बर्बाद हो जाता है.

3- खुद के लिए निकालें समय

खुश रहने के लिए जरूरी है कि आप खुद से प्यार करें और खुद के लिए समय निकालें इसके साथ ही अपनी जरूरतों को प्राथमिकता देना सीखें, क्योंकि अक्सर हम दूसरे कामों में उलझकर खुद को नजरअंदाज कर देते हैं.

4- भविष्य के बारे में ज्यादा ना सोचें

आप अगर सही सलामत हैं तो सब सही है. आप अपने लिए किसी परिवार से कम नहीं है इसलिए हालात चाहे जैसे भी हों उसका आनंद उठाएं और भविष्य के बारे में सोचकर अपना वर्तमान खराब ना करें क्योंकि भविष्य में क्या होनेवाला है ये किसी को नहीं पता और ना ही किसी ने भविष्य को देखा है.

5- अपनी किस्मत पर नाज़ करें

खुश रहने के लिए जरूरी है कि हर चीज के प्रति आपका नजरिया बिल्कुल सकारात्मक हो. इसलिए हमेशा यही सोचिए कि आज आपने अपने दिन को कितना खास बना दिया और आपको कितना अच्छा लग रहा है और इसके लिए अपनी किस्मत पर गर्व करें क्योंकि ये आपकी अच्छी किस्मत का ही कमाल है कि आप इस अच्छे पल का आनंद उठा रहे हैं.

6- दूसरों से हमेशा अच्छी बात करें

अगर आप दूसरों से प्यार से बात करते हैं तो इससे ना सिर्फ उस व्यक्ति को बल्कि आपको भी अच्छा लगता है. इसलिए जहां जरूरत हो वहां अच्छी बातें करें और दूसरों को भी अच्छी बातें करने के लिए प्रेरित करें. इससे आपके भीतर आत्मविश्वास आएगा और आपके दिल को अजीब सी खुशी का अहसास भी होगा.

7- दूसरों पर नहीं खुद पर शक करें

आमतौर पर लोग खुद को सही और दूसरों को गलत ठहराने का कोई मौका हाथ से नहीं जाने देते हैं और जहां तक बात है किसी पर शक करने की तो बिना सोचे समझे लोग किसी पर भी उंगली उठा देते हैं इसलिए दूसरों पर शक करने से पहले खुद पर शक करना सीखें.

8- किसी आशंका को लेकर डरे नहीं

अक्सर व्यक्ति किसी घटना की आंशका को लेकर अपने आज को खराब कर लेता है वो अपना दिन किसी आंशका के डर में ही बिता देता है. इसलिए आपको जिस बात की आशंका परेशान कर रही हैं उसके बारे में सोच-सोचकर डरने या परेशान होने की जरूरत नहीं है.

9- नकारात्मक माहौल से रहें दूर

खुश रहने का एक मंत्र यह भी है कि जितना हो सके आप खुद को नकारात्मक माहौल से दूर रखने की कोशिश करें. नकारात्मक माहौल में रहने से दिमाग में कई तरह की नकारात्मक बातें अपना घर करने लगती हैं इसलिए खुद को ऐसे माहौल से दूर रखें.

10- दूसरों के हाव-भाव पर ध्यान दें

दूसरों के हाव-भाव की तरफ ध्यान देने की कोशिश करें क्योंकि अक्सर आपके आसपास के लोग आपको ये नहीं बता पाते हैं कि वो आपके बारे में क्या सोच रहे हैं. लेकिन अगर आप उनके हाव-भाव पर गौर करेंगे तो उनके बिना कुछ कहे ही आप सब समझ जाएंगे.

गौरतलब है कि खुश रहने के इन मंत्रों को अपने जीवन में शामिल करना थोड़ा मुश्किल जरूर है लेकिन जो व्यक्ति इन मंत्रों को अपने जीवन में शामिल कर लेता है वो हर हाल में खुश रहता है.

Don't Miss! random posts ..