ENG | HINDI

आपके अंदर छिपे होते हैं ये 10 तरह के डर,  करते हैं आपकी पर्सनैलिटी का खुलासा

हम सभी को किसी ना किसी बात से डर जरूर ही लगता है। बहादुर लोगों को भी कम से कम किसी एक चीज़ से तो डर लगता ही होगा और अपने अंदर छिपे इस डर को छिपाने या इसे लेकर शर्म महसूस करने की जरूरत नहीं है।

मनोविज्ञान के अनुसार आपके अंदर छिपा डर आपकी पर्सनैलिटी के बारे में बहुत कुछ बता सकता है। आज हम आपको 10 तरह के डर के बारे में बताएंगें और जानेंगें कि उनसे जुड़े लोग कैसे होते हैं।

– सांप धोखे को दर्शाते हैं। अगर आपको सांप से डर लगता है तो आपकी सुरक्षात्मक वृत्ति बहुत मजबूत है और आप दूसरों के लिए खड़े होते हैं।

– अगर आपको खून देखते ही चक्‍कर आने लगते हैं या आप खून देखकर डर जाते हैं तो आप काफी शांत और प्रोटेक्‍टिव हैं। खून को देखते ही आपका दिमाग खतरे का संकेत देने लगता है।

– किसी को भीड़ के बीच बोलने में हिचकिचाहट होती है तो ये आपमें आत्‍मविश्‍वास में कमी का संकेत है। इसके अलावा अगर आप अपने हर काम पर दूसरों की सलाह लेते हैं या आपको लगता है कि आप फेल हो जाएंगें तो इसका मतलब है कि आपको खुद पर विश्‍वास नहीं है।

– कई लोग जोकर देखकर भी डर जाते हैं। जोकर किसी एक की निर्णय लेने की क्षमता को दर्शाता है। अगर आप ईमानदार, पारदर्शी और सीधी बात करने वाले हैं तो आपको जोकर से डर लग सकता है।

– मकड़ी को देखकर भी कई लोगों की चीखें निकल जाती हैं। अगर आप भी मकड़ी देखकर डर जाते हैं तो आपके अस्तित्व और नेतृत्व की प्रवृत्ति बहुत मजबूत होने की संभावना है।

– कुछ लोग साफ-सफाई को लेकर थोड़े सनकी होते हैं। अगर आप भी बार-बार अपने आसपास की सफाई के बारे में ही सोचते रहते हैं तो इसका मतलब है कि आप छोटी-छोटी बातों को लेकर परेशान रहते हैं।

– अंधेरे का मतलब है रोशनी की तलाश करना। अगर आपको अंधेरे से डर लगता है तो इसका मतलब है कि आप बहुत क्रिएटिव हैं। खाली जगह देखते ही आपके दिमाग में कई तरह की तस्‍वीरें बनने लगती हैं जो आपको डरा देती हैं।

– कई लोगों को अकेलेपन से डर लगता है। ऐसे डर का मतलब है कि उन लोगों को अपने जीवन में पर्याप्‍त प्‍यार नहीं मिला है।

– अगर आपको कई लोगों से खचाखच भरी जगह देखकर भी डर लगता है और आप हमेशा पर्सनल स्‍पेस की तलाश में रहते हैं तो आप किसी पर आसानी से भरोसा करने वालों में से नहीं हैं।

– ऊंचाई से डरना आम बात है। अगर किसी को ऊंचाई से डर लगता है तो इसका मतलब है कि वो इंसान अपनी जड़ों से जुड़ा हुआ है और उसका अपने कदमों पर नियंत्रण है। ऐसे लोग बुद्धिमान और संवेदनशील होते हैं और ये किसी भी तरह की परिस्थिति को नियंत्रित कर सकते हैं।

– अब आप खुद देखिए कि आपको इनमें से किस चीज़ से डर लगता है और आपके डर के हिसाब से आपकी पर्सनैलिटी कैसी है और आपमें क्‍या खूबी है। अपने विचार नीचे दिए गए कमेंट बॉक्‍स में हमसे शेयर जरूर करें।

Don't Miss! random posts ..